पीएलपीए पर आज होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

गुडग़ांव(ब्यूरो):प्रदेश सरकार की ओर से संशोधित किए गए पंजाब लैंड प्रिजर्वेशन एक्ट को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है, तो दूसरी ओर अरावली को लेकर लोगों ने  एकजुटता दिखानी शुरू कर दी है।पीएलपीए (पंजाब लैंड प्रिजर्वेशन एक्ट) में सरकार की ओर से किए गए संशोधन को लेकर लोगों में भारी आक्रोश है। इस संशोधन से गुडग़ांव-फरीदाबाद की करीब 27 हजार एकड़ अरावली की जमीन गैर वानिकी कार्यो सहित बिल्डरों के लिए धनउगाही का चारागाह बन जाएगा।

दूसरी तरफ लोगों ने अरावली बचाने ओर पीएलपीए में हुए संशोधन का विरोध करने के लिए अरावली में फैले कूड़े-कचरे को साफ करना शुरू कर दिया है। रविवार की सुबह बच्चों सहित कई समूहों में लोग गुडग़ांव-फरीदाबाद मार्ग पर स्थित अरावली पहाडिय़ों पर जुटे और पहाडिय़ों में फैले कूड़ा, कचरा, प्लास्टिक को इक्टठा करके साफ किए। लोगों का कहना है कि अरावली में फैले कूड़े कचरे को वन्यजीव खाकर मर रहे हैं और इससे मिटटी की गुणवत्ता प्रभावित होती है।

लोगों ने पंजाब लैंड प्रिजर्वेशन एक्ट में संशोधन के खिलाफ अब तय किया है कि रोज ही अरावली में आकर वह जॉगिंग करेंगे और कूड़े को रोज ही साफ करेंगे। अरावली की पहाडिय़ों और बायो डायवर्सिटी पार्क में हजारों तरह की वनस्पतियां, चिडिय़ा, तितलियों को देखना और सुबह-सुबह इन वादियों में जॉगिग करके लोग पर्यावरण के लिए लोगों को जागरुक करने के लिए अभियान की शुरुआत किए हैं। 
 

Related Stories:

RELATED काला धन मामले पर कल सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट