ईरान संसद में बिल पास- अमेरिकी सेना आतंकवादी घोषित

तेहरान/वॉशिंगटनः अमेरिका ने जब से ईरान के साथ परमाणु करार खत्म किया है तब से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ा हुआ है। इसके चलते अमेरिका द्वारा ईरानी सेना 'रिवॉल्यूशनरी गार्ड कोर’ को आतंकवादी घोषित करने के बाद ईरान ने भी अमेरिकी सेना को आतंकवादी घोषित कर दिया है। ईरानी संसद में 256 में से 204 सदस्यों ने अमेरिका सेंट्रल कमांड (सेंटकॉम) सेना को आतंकवादी संगठन के रुप में नामित करने के पक्ष में वोट किया ।



दरअसल, पिछले हफ्ते अमेरिका ने ईरान की सेना ‘रिवॉल्यूशनरी गार्ड कोर’ को आतंकवादी संगठन घोषित किया था।  ईरान में अमेरिका के इस कदम की काफी निंदा की जा रही है। अमेरिका की इस घोषणा के बाद ईरान के विदेश मंत्रालय ने अपने देश के उच्च राष्ट्रीय सुरक्षा काउंसिल से कहा कि वो सेंटकॉम को आतंकवादी संगठन की सूची में शामिल करें।



इस बिल में ये भी कहा गया है कि अगर सेंटकॉम को किसी भी तरह की वित्तीय या अन्य सूचना प्रदान करता है तो ये भी अतंकवादी गतिविधी मानी जाएगी। बिल में किसी भी प्रकार के वित्तीय या सूचना के किसी भी प्रकार को ध्यान में रखते हुए सेंटकॉम के रूप में एक कार्यकाल के लिए निर्धारित अवधि के अनुसार प्रदान करता है। जानकारी के लिए बता दें कि अमेरिका ने जब से ईरान के साथ परमाणु करार खत्म किया है तब से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ा हुआ है।



RRGC को आतंकवादी संगठन घोषित करन ने के बाद अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि आईआरजीसी और इससे जुड़े संस्थान आतंकवाद को समर्थन देते है। ऐसा पहली है जब संयुक्त राष्ट्र अमेरिका ने किसी दूसरे देश की सरकारी संस्था को एक आतंकवादी संस्था के रूप में नामित किया है। ईरान के अर्धसैनिक संगठन को आतंकवादी घोषित करने के साथ ही ईरान के अर्धसैनिक संगठन किसी भी तरह की सूचना प्रदान करना भी अवैध करार दिया है।

Related Stories:

RELATED जल्द ही सस्ता हो सकता है आपके टीवी का बिल! TRAI जारी करेगा नया नियम