CBSE: अप्रैल में नहीं होगी 11वीं की पढ़ाई

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक संयंम भारद्वाज ने बताया कि परीक्षा के बाद तुरंत नया सत्र शुरू होने से मूल्यांकन में दिक्कतें होती हैं। शिक्षक व्यस्त होने का बहाना बनाते हैं। इस कारण बोर्ड रिजल्ट के बाद ही 11वीं की कक्षाएं चलेंगी। अभी सभी शिक्षक मूल्यांकन करेंगे। इसलिये बोर्ड ने सभी स्कूलों को 11वीं का नया सत्र अप्रैल से शुरू नहीं करने का निर्देश दिया है। 10वीं बोर्ड का रिजल्ट जारी होने के बाद 11वीं में नामांकन लेने के बाद ही कक्षाएं शुरू करनी है। बोर्ड ने इस संबंध में सभी स्कूलों को पत्र लिख कर सूचित भी कर दिया है।

29 मार्च तक चलेगी बोर्ड की परीक्षा
 स्कूल छात्र के प्री-बोर्ड रिजल्ट के आधार पर 11वीं की पढ़ाई शुरू करवाते हैं। लेकिन इस बार बोर्ड ने सभी स्कूलों को बोर्ड रिजल्ट निकलने के बाद ही 11वीं की पढ़ाई शुरू करने को कहा है, क्योंकि 29 मार्च तक बोर्ड की परीक्षा है। वहीं 12वीं बोर्ड परीक्षा चार अप्रैल तक चलेगी। इसके बाद 20 से 25 अप्रैल तक मूल्यांकन प्रक्रिया होगी।


नौवीं-10वीं की पढ़ाई मूल्यांकन बाद
सीबीएसई ने 11वीं के साथ 10वीं की कक्षाएं भी मूल्यांकन बाद चालू करने को कहा है। जब तक मूल्यांकन चलेगा नौवीं से 12वीं तक की कक्षाएं रद्द रहेंगी। बोर्ड की मानें तो अधिकतर शिक्षकों को मूल्यांकन कार्य में लगाया गया है। . केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने बताया कि नये सत्र शुरू होने से मूल्यांकन में दिक्कतें होती हैं। शिक्षक व्यस्त होने का बहाना बनाते हैं। इस कारण बोर्ड रिजल्ट के बाद ही 11वीं की कक्षाएं चलेंगी। अभी सभी शिक्षक मूल्यांकन करेंगे। .

Related Stories:

RELATED सीबीएसई ने मूल्यांकन से हटाए प्राइमरी शिक्षक