किसान जत्थेबंदियां मुख्यमंत्री की कोठी समक्ष अनिश्चितकालीन धरना देने के लिए बजिद, तैयारियां जोरों पर

मानसा(मनजीत कौर): पंजाब की संघर्षशील 7 किसान जत्थेबंदियों के आह्वान पर 25 मार्च को किसानों के साथ किए वायदे याद करवाने के लिए मुख्यमंत्री की कोठी आगे अनिश्चितकालीन धरने के तहत भारतीय किसान यूनियन एकता डकौंदा ब्लाक मानसा द्वारा तैयारियों संबंधी भैणीबाघा में दस्तक आर्ट ग्रुप पंजाब की तरफ से खेले गए नाटक ‘इंकलाब की राह पर’ नुक्कड़ नाटक मार्च के शहीदों को समर्पित दिखाए गए।

इसमें यह दिखाया गया कि देश के नेता किसानी और जवानी को कैसे नशों के दरिया में बहा कर खत्म कर रहे हैं। इस दौरान किसान नेता महेन्द्र सिंह भैणीबाघा, बलविंद्र शर्मा ख्याला, सत्तनाम सिंह ने कहा कि सत्ता में आने के लिए किसानों के साथ बड़े-बड़े वायदे किए कि किसानों का सारा कर्जमाफ किया जाएगा और फसलों के दोगुने भाव, किसानों की जमीनों की कुर्कियां बंद, पंजाब के बेरोजगार नौजवानों को नौकरियां और पंजाब में नशा खत्म करके पंजाब को खुशहाल राज्य बना देंगे, वायदे तो  पूरे नहीं हुए, बल्कि दो सालों में कर्जे के बोझ कर खुदकुशी कर रहे किसानों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है।

कैप्टन सरकार को किए वायदे याद करवाने के लिए 25 मार्च को सांझे संघर्ष मोर्चा मोती महिल आगे जा रहे हैं। उन्होंने सभी किसानों से अपील की कि अधिक से अधिक धरने में शामिल हों।

Related Stories:

RELATED धरने पर बैठे किसानों ने शहर में किया प्रदर्शन