एक सच्ची घटना पर आधारित अमेरिकी सिख पर बनी फिल्म

अमेरिका में सिख के ऊपर एक फिल्म बनाई गई है। ये फिल्म सिखों के लिए उत्साह लेकर आएगी। दरअसल, अमेरिका की एक युवती ने ‘सिंह’ नामक एक लघु फिल्म बनाई है। यह फिल्म उस भारतवंशी सिख पर आधारित है जिनके अभियान की बदौलत अमेरिका को सिख समुदाय के लिए अपनी पगड़ी नीति में बदलाव करना पड़ा।


इंडियाना की छात्रा और अदाकारा जेना रूइज द्वारा निर्देशित फिल्म 2007 की एक सच्ची घटना पर आधारित है जब सिख उद्यमी गुरिंदर सिंह खालसा को न्यूयार्क के बफेलो में विमान पर सवार होने से रोक दिया गया था। एयरपोर्ट पर तमाम सुरक्षा व्यवस्था से सफलतापूर्वक गुजरने के बाद उन्होंने पगड़ी उतारने से मना कर दिया था इसलिए उन्हें रोक दिया गया था। ये फिल्म अगले महीने रिलीज होगी

बता दें इस घटना के बाद इंडियाना पोलिस में रहने वाले खालसा ने अमेरिकी कांग्रेस का ध्यान इस मुद्दे की ओर दिलाया। इसके बाद देशभर के हवाई अड्डे में पगड़ी को लेकर नीति में बदलाव हुआ। खालसा को उनके अभियान के लिए हाल में विशिष्ट रोसा पाक्र्स ट्रेलब्लेजर अवार्ड से सम्मानित किया गया था। इंडियाना यूनिर्विसटी-परड्यू यूनिर्विसटी इंडियाना पोलिस में न्यूक्लियर मेडिसीन टेक्नोलॉजी में स्नातक कर रहीं रूइज ने कहा कि अतीत की उस घटना को दिखाना सम्मान की बात है जिसकी बदौलत पगड़ी हटाने संबंधी हमारी नीति में बदलाव करना पड़ा।

Related Stories:

RELATED महानायक अमिताभ बच्चन की फिल्म बदला ने पहले सप्ताह कमाए 38 करोड़