NIA ने दायर किया गुजरात फर्जी नोट मामले में आरोपपत्र

नई दिल्ली: गुजरात में फर्जी भारतीय नोटों का रैकेट चलाने के संबंध में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने अहमदाबाद की एक विशेष अदालत में आरोपपत्र दायर किया। एनआईए के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि दो आरोपियों संजय कुमार मोहनभाई देवदिया उर्फ संजय कुमार मोहनभाई देवलिया और सुरेशभाई मवाजीभाई लथीदडिय़ा उर्फ गुरुजी और चाकोर के खिलाफ आरोपपत्र दायर किए गए। भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत आरोपपत्र दायर किया गया। यह मामला सबसे पहले अहमदाबाद आतंकरोधी दस्ते ने एनआईए के इनपुट के आधार पर पंजीकृत किया था। 

एनआईए ने जूनागढ़ के निवासी देवदिया को 2000 रुपए मूल्य के 53 फर्जी नोट और 500 रुपए मूल्य के 92 फर्जी नोट के साथ गिरफ्तार किया था। प्रवक्ता ने बताया कि उसके पास से जब्त किए गए नोटों की कुल कीमत 1,52,000 रुपए है। इसके बाद एनआईए ने इस घटना को लेकर ताजा प्राथमिकी दर्ज कराई थी। प्रवक्ता ने बताया कि जांच से पता चला कि देवदिया ने ये फर्जी नोट वांछित आरोपी ताहिर शेख उर्फ कालियो से लथीदडिय़ा के इशारे पर खरीदे थे। लथीदडिय़ा अभी एनआईए के एक अन्य मामले में पश्चिम बंगाल की जेल में है।      

Related Stories:

RELATED 4 फरवरी को होगी कांग्रेस की आरोप पत्र निर्माण समिति की बैठक