नोटबंदी के 2 साल पूरे होने पर बोली कांग्रेस, यह सबसे बड़ा घोटाला

नई दिल्लीः कांग्रेस ने नोटबंदी के दो साल पूरा होने के मौके पर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए दावा किया कि 8 नवंबर, 2016 को उठाया गया कदम ‘आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला’ है। पार्टी ने यह भी कहा कि अब नोटबंदी की जवाबदेही सुनिश्चित करने का समय आ गया है और प्रधानमंत्री को जिम्मेदारी स्वीकार करनी चाहिए। 


‘अर्थव्यवस्था तहस-नहस दिवस’ 
कांग्रेस के मुख्य प्रवक्त रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि नोटबंदी आजादी के बाद सबसे बड़ा घोटाला है। नोटबंदी से कालाधन रखने वालों की हुई ऐश, रातों रात ‘सफेद’ बनाया सारा कैश! न काला धन मिला, न नकली नोट पकड़े गए, न ही आतंकवाद व नक्सलवाद पर लगाम लगी। 120 लोग मारे गए, अर्थव्यवस्था को 3 लाख करोड़ का नुकसान, लाखों नौकरियां गईं। मोदी जी, देशवासियों को अब तक ‘अर्थव्यवस्था तहस-नहस दिवस’ यानी नोटबंदी की दूसरी बरसी की बधाई नहीं दी? कोई विज्ञापन भी नहीं? आप भूल गए होंगे लेकिन देशवासियों को याद है। तैयार रहिए, पश्चात्ताप का समय अब दूर नहीं।

सुरजेवाला ने कहा कि जनता नोटबंदी का बदला भाजपा के खलिाफ़ वोट की चोट से लेगी। वक्त आ गया है कि प्रधानमंत्री मोदी इस तबाही की जिम्मेदारी लें, जिसके कारण आम जनता ने लगातार दर्द सहा। वक्त आ गया है नोटबंदी की जवाबदेही सुनिश्चित करने का। वक्त आ गया है नोटबंदी घोटाले की जांच का, ताकि दोषी पकड़े जाएं। देश कभी नहीं भूलेगा। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को नोटबंदी की घोषणा की जिसके तहत, उन दिनों चल रहे 500 रुपये और एक हजार रुपए के नोट चलन से बाहर हो गए थे।

Related Stories:

RELATED Pawan टीनूं ने घेरी Congress, लगाए घोटाले के दोष