चोरी की गाड़ी से करते थे स्नैचिंग, 4 गिरफ्तार

चंडीगढ़(सुशील): वाहन चोरी कर स्नैचिंग करने वाले गिरोह के चार सदस्यों को क्राइम ब्रांच ने मलोया से काबू किया है। आरोपियों की पहचान सरगना गुरदासपुर निवासी मनप्रीत सिंह, अमृतसर निवासी लोविश कुमार, फिरोजपुर निवासी अजय कुमार और लुधियाना के अरविंदर सिंह के रूप में हुई। पुलिस ने इनकी निशानदेही पर कुल 6 केस सॉल्व किए हैं, जिनमें से एक स्नैचिंग और 5 वाहन चोरी के हैं। चारों की निशानदेही पर पुलिस ने स्नैच किया गया एक मोबाइल, एक कार, एक एक्टिवा और तीन बाइक बरामद की हैं। क्राइम ब्रांच ने गिरोह के चारों को शनिवार को जिला अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

मनप्रीत पर गुरदासपुर में भी दर्ज है केस
डी.एस.पी. क्राइम पवन कुमार ने बताया कि इंस्पैक्टर अमनजोत सिंह को 6 सितम्बर को जानकारी मिली थी कि स्नैचिंग करने वाले गिरोह के सदस्य मलोया में स्नैचिंग के इरादे से घूम रहे हैं। इस पर क्राइम ब्रांच ने मलोया थाना क्षेत्र में नाके लगाए और वहां मनप्रीत सिंह और लोविश को दबोच लिया। पुलिस ने इनकी निशानदेही पर फरार दो सदस्य अजय और अरविंद को काबू किया। क्राइम ब्रांच ने चारों को जिला अदालत में पेश एक दिन का रिमांड हासिल किया।

रिमांड में चारों ने बताया कि वह वाहन चुराकर स्नैचिंग करते हैं। पुलिस ने इनकी निशानदेही पर मलोया से छीना हुआ मोबाइल और सैक्टर-36,17,39, मनीमाजरा और बलौंगी थाना क्षेत्र से चोरी किए गए वाहन रिकवर किए। पुलिस ने बताया कि मनप्रीत पर गुरदासपुर में वाहन चोरी और रॉबरी का केस दर्ज हो रखा है। 

टैस्ट ड्राइव के बहाने ले गया था कार
क्राइम ब्रांच ने बताया कि 19 अगस्त 2018 को खरड़ निवासी गुरविंदर पाल सिंह गाड़ी खरीदने गया था। गुरविंदर सिंह ने मनप्रीत को गाड़ी की टैस्ट ड्राइव लेने दी। पुलिस ने बताया कि मनप्रीत टैस्ट ड्राइव के बहाने गुरविंदर की गाड़ी लेकर फरार हो गया। फिर इसी से मनप्रीत ने साथियों के साथ मिलकर मलोया थाना क्षेत्र से 2 सितम्बर को मोबाइल स्नैचिंग को अंजाम दिया था।
 

Related Stories:

RELATED पुरानी रंजिश के चलते युवक पर किया चाकू से वार