दर्दनाक हादसा: इंजीनियर को 200 मीटर तक घसीटती रही बस, मौेके पर मौत

द्वारका(नवोदय टाइम्स): छावला इलाके में शुक्रवार को रफ्तार का कहर देखने को मिला, एक तेज रफ्तार मिनी बस ने बाइक सवार को न सिर्फ टक्कर मार दी, बल्कि टक्कर के बाद बस के बोनट में फंस गए सवार को करीब 200 मीटर तक घसीटती चली गई। लोगों द्वारा शोर मचाने पर बस चालक ने बस रोकी और मौके से फरार हो गया। 

सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस में फंसे घायल 28 वर्षीय मोहन को पास के अस्पताल ले गई। गंभीर चोटों के कारण इलाज के दौरान ही उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी बस चालक की तलाश शुरू कर दी है। मोहन परिवार के साथ कुतुब विहार इलाके में रहते थे। परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं। मोहन पेशे से इंजीनियर थे और गुरुग्राम के कंपनी में काम करते थे। शुक्रवार दोपहर वह अपनी बाइक से गुरुग्राम ऑफिस जा रहे थे। जैसे ही उनकी बाइक गोयला डेयरी नाले के पास पहुंची पीछे से आर रही एक तेज रफ्तार मिनी बस ने उसकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर से मोहन बाइक से गिरने के बाद बस के बोनट में लगे गार्ड में फंस गए।

टक्कर के बाद भी बस चालक ने बस रोकने के बजाय उसकी रफ्तार और बढ़ा दी और उसे भगाने लगा। इस दौरान उसमें फंसा मोहन बस के साथ ही करीब 200 मीटर तक सड़क पर घसिटता चला गया। सड़क से गुजर रहे लोगों और बस में सवार लोगों द्वारा जब बस चालक को रोकने के लिए दबाव बनाया तो वह बस को सड़क पर रोक उसे कूद मौके से फरार हो गया। छावला थाना पुलिस ने मिनी बस के मालिक से संपर्क किया तो पता चला कि आरोपी किराए पर आरटीवी चलाता था। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।
 

Related Stories:

RELATED सड़क के रास्ते दिल्ली से मुम्बई जाने वालों के लिए एक खुशखबरी