पब्लिक टॉयलेट में हो रही इस हरकत से द. कोरियाई सरकार परेशान

सियोलः दक्षिण कोरिया में सार्वजनिक शौचालयों में अनचाहे खुफिया कैमरों की समस्या  बढ़ती जा रही  है। समस्या इतना विकराल रूप धर चुकी है कि इस देश की सरकार परेशान हो गई है। राजधानी सियोल में खुफिया कैमरों का पता लगाने के लिए अब रोजाना सार्वजनिक शौचालयों की जांच कराई जा रही है। मीडया रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण कोरिया में शौचालयों और कपड़े बदले वाले चेंजिंग रूम्स में खुफिया कैमरे की समस्या इतनी गंभीर हो चुकी है कि पिछले वर्ष पोर्न के लिए इस्तेमाल किए गए 6000 से ज्यादा स्पाई कैम बरामद किए गए थे।

रिपोर्ट के मुताबिक स्पाई कैम से बनाए गए वीडियो अक्सर पीड़ित पुरुष या महिला की जानकारी के बिना ऑनलाइन अपलोड कर दिए जाते हैं। इस साल की शुरुआत में दसों हजार महिलाओं ने खुफिया कैमरों के मुद्दे पर सड़कों पर विरोध प्रदर्शन किया था। उन्होंने तख्तियों में  my life is not your porn लिख रखा था। सामाजिक कार्यकर्ताओं का कहना है दक्षिण कोरिया में महिलाओं के बीच हमेशा यह डर बना रहता है कि कहीं उनकी तस्वीर तो नहीं खींची जा रही या वीडियो तो नहीं बनाया जा रहा।

पोर्न के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले खुफिया कैमरों की 80 फीसदी शिकार महिलाएं होती हैं। एक समाचार एजेंसी के मुताबिक खुफिया कैमरों को पता लगाने के लिए सियोल के सार्वजनिक शौचालयों को महीने में एक बार चेक किया जाता है। हालांकि, शौचालयों की देखरेख करने वाले स्टाफ को अब रोजाना खुफिया कैमरों का पता लगाने के लिए उन्हें चेक करना होगा।

कानून प्रवर्त्तन अधिकारियों के  मुताबिक अपराधियों को पकड़ना कठिन हैं खासकर तब जब वे कैमरा इन्सटॉल करने के बाद 15 मिनट के भीतर उन्हें निकाल लेते हैं। 
रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण कोरिया में पिछले वर्ष खुफिया कैमरों से संबिधित अपराधों के मामले में 5400 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया था। उनमें से 2 फीसदी से भी कम को जेल हुई थी।    50 सरकारी कर्मचारियों को खुफिया कैमरों का पता लगाने का काम सौंपा गया है लेकिन उनमें से किसी ने दो वर्षों में एक भी कैमरा नहीं खोजा है

Related Stories:

RELATED माइक्रोसॉफ्ट का दावा, चोरी के सॉफ्टेवयर से भारत में चल रहे 91% कम्प्यूटर