एशियाड की मेडलिस्ट दिव्या ने केजरीवाल को सुनाई खूब खरी-खोटी

नई दिल्लीः एशियाई खेलों के रेसलिंग स्पर्धा में कांस्य पदक जीतने वाली दिव्या काकरान ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को खूब खरी-खोटी सुनाई। केजरीवाल सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दिव्या ने कहा है कि उन्होंने तब कोई मदद नहीं की, जब मुझे सबसे ज्यादा जरूरत थी। दिव्या ने कहा, कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में जब गोल्ड जीता तब भी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने बुलाया। मैंने कहा एशियन गेम्स की तैयारी के लिए कुछ चाहिए। मैंने लिखकर दिया लेकिन मेरा फोन भी नहीं उठाया गया। 

हमें कोई सपोर्ट नहीं मिला
दिव्या ने कहा, ''मुझे जब कॉमनवेल्थ में गोल्ड मिला तब मेरे लिए कुछ नहीं किया गया। सीएम से कहा गरीब बच्चों के बारे में कुछ सोचिए। जिस वक़्त ज़्यादा ज़रूरत रहती है उस वक़्त हमारी सहायता कोई नहीं करता है।'' उन्होंने कहा, ''हरियाणा में देखिये खिलाड़ियों को कितनी सपोर्ट है। वहां 3 करोड़ मिलते हैं और यहां 20 लाख। हरियाणा में कहते हैं घी दूध है। घी दूध दिल्ली में भी है लेकिन यहां सपोर्ट नहीं है।''

केजरीवाल को सुनाई खूब खरी-खोटी
केजरीवाल से मुलाकात के दौरान भी दिव्या ने उनसे कहा था, ''मुझे कॉमनवेल्थ में ब्रॉन्ज मेडल मिला था। एक दौर था, जब हमें ग्लूकोज तक नहीं मिलता था। मेरा यह कहना है कि गरीब बच्चों की मदद की जाए। आज हम आगे बढ़ गए हैं तो आपने बुलाया है। लेकिन, उस वक्त मदद की जाए जब जरूरत हो। आपसे कॉमनवेल्थ के दौरान बात हुई थी, आपने मदद की बात कही थी। मैंने एशियन गेम्स के दौरान मदद की बात कही थी, लेकिन आपकी ओर से कोई मदद नहीं की गई।''

केजरीवाल ने मदद का किया था दावा
दिव्या के आरोपों को लेकर दिल्ली सरकार की ओर से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। केजरीवाल ने कहा, ''आप सभी ने अपने परिवार के साथ-साथ इस देश और दिल्ली को गैरवान्वित किया है। आप में से कई खिलाड़ी कठिन परिस्थितियों से जूझ चुके हैं। आपने वित्तीय समस्याओं और सुविधाओं की कमी का सामना किया है। आपका प्रयास अतुलनीय है।' केजरीवाल ने कहा, 'आप सभी उभरते खिलाड़ियों के लिए प्रेरणा का स्रोत हैं। हम स्कूलों में जाकर बच्चों को आपके नक्शे कदम पर चलने के लिए प्रेरित करेंगे।''
 

Related Stories:

RELATED एशियाड की मेडलिस्ट दिव्या ने केजरीवाल को सुनाई खूब खरी-खोटी