कर्नाटक में JD(S) और कांग्रेस एक,बीजेपी अपने बारे में सोचे: सिद्धारमैया

बेंगलुरु: कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस के बीच तनातनी को विराम देते हुए पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि दोनों दल एक हैं। मौजूदा सरकार सही दिशा में आगे बढ़ रही है। 

बीजेपी को जेडीएस और कांग्रेस के बारे में चिंतित होने की जरूरत नहीं है। बीजेपी को इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि उन्होंने देश की जनता के साथ क्या वादा किया था। यही नहीं पीएम नरेंद्र मोदी को ये सोचना चाहिए कि 2014 से चुनाव के पहले जो वादे उन्होंने किए थे क्या वे पूरे हुए। 

सिद्धारमैया ने शुक्रवार को कहा है कि मौजूदा सरकार पांच साल चलेगी और तय कॉमन मिनिमम प्रोग्राम को पूरा करेगी। उन्होंने जेडी (यू) और कांग्रेस के गठबंधन के बारे में कहा, 'हम एक हैं। कर्नाटक सरकार सही दिशा में चल रही है। भारतीय जनता पार्टी को इसके बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है। उन्हें अपने और प्रधानमंत्री वादों के बारे में सोचना चाहिए, संसदीय चुनाव आने वाले हैं।' साथ ही उन्होंने यह जानकारी भी दी कि सितंबर के तीसरे हफ्ते में कैबिनेट विस्तार करने के बारे में सोच रहे हैं। 

बता दें कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने पहले एक कार्यक्रम में कहा था कि वह 'जहर का प्याला' पी रहे हैं। उसके बाद से ही अटकलें लगने लगी थीं कि दोनों दलों के बीच कुछ ठीक नहीं। इस बयान के कुछ दिन बाद ही पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने दावा किया था कि वह एक बार फिर सूबे के मुख्यमंत्री बनेंगे। हासन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए सिद्धारमैया ने मुख्यमंत्री बनने की अपनी इच्छा जाहिर की थी। उन्होंने यह भी कहा था कि उन्हें दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने से रोकने के लिए विपक्ष ने आपस में हाथ मिला लिया। वहीं सिद्धारमैया के इस बयान के बाद कुमारस्वामी ने कहा था कि उनकी सरकार को गिराने की कुछ लोग साजिश रच रहे हैं। 
 

 

 


 

Related Stories:

RELATED सिद्धारमैया को लेकर कुमारस्वामी का बड़ा बयान, बताया गठबंधन का सरंक्षक