Video: मरने के लिए नाले में फेंक गई थी मां, महिला ने नवजात को दी नई जिंदगी

नेशनल डेस्क: जाको राखे साइयां, मार सके न कोय...कहते है जिसकी रक्षा भगवान कर रहा है। उसको मारने वाला कोई हो ही नहीं सकता। यह कहावत एक नवजात के लिए बिल्कुल सही बैठती है। बुधवार को जहां पूरा देश स्वतंत्रता दिवस का जश्न मना रहा था वहीं तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में आखिरी सांस ले रहे बच्चे को ​ए​क महिला ने नई जिंदगी दी। 


जानकारी के अनुसार चेन्नई के वलसरक्कम में रहने वाली गीता को अपने घर के पास से बच्चे के रोने की आवाजें आ रही थी। जब उसने आसपास देखा तो पाया कि वह आवाजें नाली में ढके पत्थर के नीचे से आ रही थी। पहले तो गीता को लगा शायद कोई छोटा जानवर वहां फंस गया है। जब उन्होंने 1 फीट चौड़े नाले के पाइप के अंदर हाथ डालकर कुछ बाहर निकाला तो उनके पांव तले जमीन खिसक गई। 



नाले में से कोई जानवर नहीं बल्कि एक नवजात बच्चा था। उसके गले में नाड़ी बंधी थी। गीता ने तुरंत लोगों की मदद से  बच्चे की नाल को अलग किया और उसे चेन्नई के एगमोर अस्पताल लेकर गई। डॉक्टरों के अनुसार बच्चे की हालत में सुधार हुआ है और अब वह बिल्कुल ठीक है। गीता ने बताया कि उन्होंने बच्चे का नाम 'सुतंतिरम' (स्वतंत्रम) रखा है क्योंकि वह उन्हे स्वतंत्रता दिवस पर मिला है। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि उसे जीने की आज़ादी मिल गई। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे देख सभी की आंखें नम हो गई। 

 

Related Stories:

RELATED Video Viral: समुद्र किनारे फोटो खिंचवा रही थी महिला, जोर की लहर और हुआ ऐसा हाल