IGI हवाई अड्डे का बोझ कम करेंगे नए रनवे

नई दिल्लीः इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (आई.जी.आई.) पर लगातार बढ़ती यात्रियों की संख्या का बोझ कम करने के लिए दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) ने इसके विस्तार की योजना तैयार की है। टर्मिनल 1 और 3 पर नए रनवे और टैक्सी वे बनाए जाएंगे। गौरतलब है कि आई.जी.आई. से 24 घंटों में 1300 फ्लाइट आवाजाही करती हैं। इस एयरपोर्ट स रोजाना 2 लाख यात्री आते-जाते हैं।

एयरपोर्ट के विस्तार की योजना 3 चरणों में बनाई गई है। पहले चरण में टर्मिनल 1 का विस्तार पूरा होगा। इसे टर्मिनल 3 की तर्ज पर भव्य और शानदार रूप में विकसित किया जाएगा। इसका काम 2018 से लेकर 2021 तक पूरा होगा। दूसरे चरण का काम 2021 से 2025 और तीसरे चरण में 2026 से आगे तक विस्तार कार्य पूरा होगा।'

टर्मिनल 1 मैट्रो से जुड़ जाएगा
टर्मिनल 1 पर अभी सस्ती घरेलू फ्लाइट का ट्रैफिक है। यहां तक पहुंचने के लिए एयरोसिटी मैट्रो स्टेशन से करीब 2 कि.मी. की दूरी तय करनी पड़ती है। दक्षिण और मध्य दिल्ली के इलाकों को मैट्रो से टर्मिनल 1 से जोड़ा जाएगा। नया मैट्रो स्टेशन टर्मिनल 3 की तरह टर्मिनल 1 तक सीधे पहुंचा देगा। टर्मिनल 1 और टर्मिनल 3 के बीच इंटर-टर्मिनल कनैक्टिविटी भी हो जाएगी। इसके अलावा यहां यात्रियों के लिए एलीवेटेड क्रॉस कैरिज-वे बनाया जाएगा जिसके ऊपर टैक्सी रनवे होगा और नीचे से गाड़ियां गुजर सकेंगी।

तोड़-फोड़ का काम पूरा
टर्मिनल 1 पर तोड़-फोड़ का काम लगभग पूरा हो गया है। यहां 2 माह से काम चल रहा है। नागर विमान महानिदेशालय (डी.जी.सी.ए.) के पुराने कार्यालय को भी इस माह के अंत तक तोड़ दिया जाएगा।

नई जगह स्थानांतरण
टर्मिनल 1 पर स्थित डी.जी.सी.ए. ऑफिस को एयरपोर्ट पर ही जी-5 बिल्डिंग में और जी.एम.आर. एविएशन अकादमी और डायल एविएशन सिक्योरिटी ट्रेनिंग इंस्टीच्यूट को टर्मिनल 2 के आगंतुक लांज में स्थानांतरित किया जाएगा।

टर्मिनल 4 भी बनेगा
लोगों की सुविधा के लिए एयरपोर्ट पर टर्मिनल 4 भी बनाया जाएगा। इसकी रूपरेखा तैयार की जा रही है। पहले चरण के बाद नए टर्मिनल 4 का काम शुरू होने की संभावना है। 

लंदन के हीथ्रो हवाई अड्डे को पीछे छोड़ देगा
वर्ष 2019-20 तक यात्रियों की संख्या के हिसाब से आई.जी.आई. लंदन के हीथ्रो हवाई अड्डे को भी पीछे छोड़ देगा। सिडनी के सैंटर फॉर एशिया पैसिफिक एविएशन (कापा)  की हाल में आई रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। 

Related Stories:

RELATED दुनिया में तेजी से बढ़ी आई.जी.आई. हवाई अड्डे की साख