नई पहल, ''आनंददायी शनिवार मनाएंगे विद्यार्थी-बैग का बोझ होगा कम

राजस्थानसरकार ने विद्यार्थियों के लिए 'आनंददायी शनिवार' पहल की शुरुआत की है। इसके अंतर्गत सरकारी स्कूलों के बच्चों को शनिवार के दिन बैग लेकर स्कूल नहीं जाना होगा और पढ़ाई किताबों से नहीं करवाई जाएगी। साथ ही बच्चों कोकुछ क्रिएटिव और अलग तरह की पढ़ाई कराई जाएगी। बता दें कि यह हर महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को लागू होगा।

PunjabKesari

इंडियन एक्सप्रैस की खबर अनुसार, विद्यार्थियों की कम्यूनिकेशन स्किल, क्रिएटिविटी और लॉजिकल थिंकिंग के विकास के लिए यह किया जा रहा है और कक्षा 1 से कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों के लिए ये किया जा रहा है। बच्चों के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखते हुए सरकार ने स्कूलों में हर महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को 'आनन्ददायी शनिवार' के रूप में मनाने के फैसला किया है।

 PunjabKesari
इन दोनों शनिवार को बच्चों को बैगमुक्त कर दिया जाएगा ताकि वह यह समय मस्ती में गुजार सकें। बच्चों को कई तरह के क्रिएटिव कामों की ट्रेनिंग दी जाएगी। राजस्थान स्कूल एजुकेशन काऊंसिल ने राजस्थान के सभी जिला एजुकेशन ऑफिसरों और समग्र शिक्षा अभियान के डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेट्रर्स को आनंददायी शनिवार के बारे में बताते हुए सर्कुलर जारी कर दिया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!