रूस में नए विशालकाय शाकाहारी डायनासोर की पहचान

मॉस्कोः रूस के वैज्ञानिकों ने लंबी गर्दन और पूंछ वाले एक विशालकाय शाकाहारी डायनासोर की पहचान की है जो करीब 13 करोड़ साल पहले पृथ्वी पर रहते थे। रूस में सेंट पीटर्सबर्ग विश्वविद्यालय के जीवाश्मविदों ने इस नए डायनासोर का नाम वोल्गाटाइटन रखा है।

बायोलॉजिकल कम्युनिकेशन जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक इस विशालकाय जंतु की रीढ़ की हड्डी के सात अवशेष रूस के उल्यानोस्क के पास वोल्गा नदी के तट पर पाए गए हैं। वोल्गाटाइटन सॉरोपोड्स समूह (लंबी गर्दन और पूंछ वाले शाकाहारी डायनासोर) से संबंध रखते हैं जो करीब 20 करोड़ से 6. 5 करोड़ साल पहले पृथ्वी पर रहते थे।

अध्ययन के मुताबिक तकरीबन 17 टन वजन वाले ये डायनासोर अपनी प्रजाति में सबसे बड़े नहीं थे। सेंट पीटर्सबर्ग विश्वविद्यालय के प्रोफैसर एलैग्जैंडर एविरयानोव ने कहा, ‘पहले यह माना जाता था कि टाइटोनोसोरस का उद्भव मुख्य रूप से दक्षिण अमरीका, यूरोप और एशिया में सिर्फ परवर्ती क्रिटेसियस काल में हुआ था।

Related Stories:

RELATED मृतक की 3 दिन बाद भी नहीं हुई पहचान