NCLAT ने NCLT के फैसले के खिलाफ मिस्त्री की याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकार किया

नई दिल्लीः राष्ट्रीय कंपनी विधि अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) ने टाटा संस के हटाए गए चेयरमैन साइरस मिस्त्री की याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकार किया। मिस्त्री ने राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) के उन्हें हटाने के आदेश को उचित ठहराने के फैसले को चुनौती दी है।

मिस्त्री की याचिका को स्वीकार करते हुए एनसीएलएटी ने नोटिस जारी किए हैं और कहा है कि इसकी सुनवाई भी इस बारे में अन्य याचिकाओं के साथ हो सकती है। अन्य याचिकाओं में उन्हें हटाने तथा टाटा संस को एक पब्लिक लि. से प्राइवेट लि.कंपनी में बदलने के खिलाफ मिस्त्री के परिवार की निवेश कंपनियों द्वारा दायर याचिकाएं शामिल हैं। 

मिस्त्री ने कल यह याचिका निजी हैसियत से दायर की थी। इसमें एनसीएलएटी से राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण के आदेश को रद्द करने की अपील की गई है।  

Related Stories:

RELATED आरकॉम-एरिक्सन मामला: एनसीएलएटी का एसबीआई को 259 करोड़ रुपये जारी करने का निर्देश देने से इनकार