पाक नेता का दावाः श्रीलंका हमलों में पाकिस्तानी सेना और ISI का हाथ

इस्लामाबादः श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में रविवार को ईस्टर के मौके पर हुए 8 सीरियल बम धमाकों ने पूरी दुनिया को दहला दिया। बम धमाकों में अब तक कम से कम 290 लोगों की जान जा चुकी है व करीब 500 लोग घायल बताए जा रहे हैं। इन धमाकों के पीछे 'नेशनल तौहीद जमात' आतंकी संगठन का हाथ बताया जा रहा है। लेकिन निर्वासित पाकिस्तानी नेता और मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट के संस्थापक अलताफ हुसैन ने इस मामले में एक नई चिंगारी को हवा दे दी है।



 हुसैन का दावा है कि श्रीलंका में हुए अलग-अलग धमाकों में पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तान की मुख्य खु़फ़िया एजेंसी ISI का हाथ है। हुसैन ने एक प्रेस रिलीज़ जारी कर कहा कि संयुक्त राष्ट्रीय संगठन के सेक्रेटरी जनरल और सभी लोकतांत्रिक देशों से कहा है कि कोलंबो में चर्चों और होटलों में हुए हमलों के पीछे पाकिस्तानी सेना और ISI का हाथ होने से इंकार नहीं किया जा सकता। बता दें कि मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (MQM) पाक का एक सेक्युलर राजनीतिक दल है। यह मुखयतः उर्दूभाषी मुजाहिरों (भारत से आए शरणार्थियों) का दल है।



वर्तमान समय में यह दल  सिंध प्रान्त का दूसरा सबसे बड़ा दल है जिसके पास 130 में से 54 सीटें हैं। यह पाकिस्तान की नेशनल असेम्बली में चौथी सबसे बड़ी पार्टी है।  दुनियाभर में आतंकवाद की हर वारदात की नींव पाकिस्तान में ही रखी गई थी। अलताफ़ हुसैन ने कहा कि वह श्रीलंका में हुए बम धमाकों की कड़ी निंदा करते हैं। इन धमाकों में अब तक करीब 290 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 500 लोग घायल हैं।



हुसैन ने कहा उनके MQM का हर कार्यकर्ता इन धमाकों से व्यथित है और हम इन लोगों के मारे जाने से दुखी हैं और हमले से प्रभावित लोगों के साथ खड़े हैं।  हुसैन से आगे कहा कि चरमपंथ अब वैश्विक तौर पर फैलता जा रहा है। हमें इसे परास्त करने के लिए एक एजेंडे के साथ खड़ा होना होगा।

Related Stories:

RELATED पाक के लिए जासूसी कर रहा भारतीय सेना का जवान गिरफ्तार