फ्लाइट में वाइन पीना पड़ा महंगा, साथ सफर कर रही बच्ची को भी मिली ये सजा

इंटरनैशनल डेस्कःएक स्वीडिश डेंटिस्ट एली होल्मन को उनकी चार साल की बेटी बीबी के साथ तीन दिन के लिए जेल भेजा गया। लंदन से दुबई जा रहीं एली ने फ्लाइट में कॉम्प्लीमेंटरी ड्रिंक के तौर पर एक गिलास वाइन मांगी थी। एली को दुबई में गिरफ्तार किया गया।


तीन दिन की सजा के बाद एली को एक साल के लिए जेल भेज दिया गया। यहां उनके मामले की सुनवाई चलेगी। एली का पासपोर्ट भी जब्त कर लिया गया है। एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) ने एली की मदद के लिए कुछ लोगों को भेजा और घटना को चौंकाने वाला बताया। जैसे ही दुबई में एली और उनकी बेटी उतरीं, आव्रजन अधिकारियों ने उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी।

एली से पूछा गया कि क्या उन्होंने शराब पी थी? एली को दोबारा जेल भेजे जाने से पहले 5 दिन का ब्रेक दिया गया ताकि वे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से मिल सकें।  संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की एक अफसर राधा स्टर्लिंग के मुताबिक, "हमारे देश में एक भ्रम पैदा किया जाता है कि वहां पर्यटकों के लिए शराब पीना कानूनन सही है। यूएई में एयरपोर्ट, होटल, रेस्तरां और क्लबों में ड्रिंक्स परोसे जाते हैं। पर्यटक इस बात का आरोप नहीं लगा सकते कि अमीरात विदेशी पर्यटकों का ख्याल नहीं रखता। लेकिन ये सच्चाई से कोसों दूर है। किसी टूरिस्ट के खून में एल्कोहल की एक बूंद भी मिलना पूरी तरह अवैध है।''

एली ने बताया, "सोने के लिए हमें गंदे गद्दे दिए गए। जो खाना दिया गया, उसमें से कचरे जैसे बदबू आ रही थी। मैं पूरे तीन दिन तक जागती रही। जब गैरी को मेरी कोई सूचना नहीं मिली तो वह मुझे देखने दुबई आए। उन्हें पता लगा कि मैं जेल में हूं। उन्होंने हमसे मिलने की कोशिश की लेकिन हमें किसी से मिलने की इजाजत नहीं थी। हम किसी से बात तक नहीं कर सकते थे।'' फिलहाल एली को जमानत तो मिल गई है लेकिन मामला सुलझने तक उन्हें एक साल दुबई में ही रहना पड़ेगा।

Related Stories:

RELATED पहले मिलकर लगाए पैग, फिर एक ने दूसरे की तोड़ दी टांग