लोकसभा चुनाव 2019: दावे पर खरा उतरा राजग, बिहार में पहली बार बंटोरे 50% से अधिक वोट

पटनाः इस बार के लोकसभा चुनाव में 50 प्रतिशत वोट हासिल करने का दावा करने वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने ‘मोदी की सुनामी' में अपने संकल्प को पूरा कर दिखाया और बिहार में पहली बार 53.25 फीसदी मत प्राप्त कर चालीस में से 39 सीटें जीत ली।

सतरहवें लोकसभा चुनाव (2019) में राजग के बैनर तले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), जनता दल यूनाईटेड (जदयू) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने मिलकर चुनाव लड़ा। तालमेल के तहत भाजपा को 17, जदयू को 17 और लोजपा को छह सीटें मिली। भाजपा और लोजपा ने जहां अपने-अपने खाते की सभी सीटें जीतीं वहीं जदयू किशनगंज को छोड़ शेष सभी 16 सीटें जितने में कामयाब रही।

इस चुनाव में चौंकाने वाली बात यह रही कि राजग के विजयी उम्मीदवारों ने न केवल जीत के अंतर में लाखों का इजाफा किया बल्कि राजग बिहार में पहली बार कुल वैद्य मतों में 50 प्रतिशत से अधिक यानी 53.25 प्रतिशत की हिस्सेदारी पर कब्जा करने में कामयाब रहा। राजग के घटक भाजपा को 23.58 प्रतिशत, जदयू को 21.81 प्रतिशत और लोजपा को 7.86 प्रतिशत मत मिले। वहीं महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को 15.36 प्रतिशत, कांग्रेस को 7.70 मत हासिल हुआ। इस तरह राजग ने बिहार की 40 में से 39 सीटें जीत ली है।

बता दें कि वर्ष 2014 के आम चुनाव में राजग में शामिल भाजपा, लोजपा और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) ने चुनाव लड़ा था। भाजपा ने 30, लोजपा ने 07 और रालोसपा ने 03 सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे। इनमें भाजपा ने 22, लोजपा ने 06 और रालोसपा ने 03 सीट पर जीत हासिल की थी।

Related Stories:

RELATED लोकसभा चुनाव 2019: इस वजह से मेनका गांधी को जीत के लिए करना पड़ा कड़ा संघर्ष