मोदी देश के पहले CM थे जिन्होंने पंचायत का भी चुनाव नहीं लड़ा और वो मुख्यमंत्री बने: शाह

वाराणसी: वाराणसी में रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि मोदी देश के पहले मुख्यमंत्री थे जिन्होंने एक पंचायत का भी चुनाव नहीं लड़ा था और वो मुख्यमंत्री बने। शाह ने लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के लिए सभी कार्यकर्ताओं को प्रणाम एव धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि काशी की जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भरोसा कायम रखा।

शाह ने कहा कि काशी के लिए तय हुआ था कि भाजपा के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी होंगे। मोदी के नामांकन के पहले काशी दर्शन, रोड शो और गंगा आरती का कार्यक्रम था। रोड शो में जो प्रचंड जनसमर्थन दिखा तो, तभी तय हो गया था कि चुनाव परिणाम क्या आने वाला है। मोदी जब मुख्यमंत्री बने तो सबने कहा कि मोदी जी को अनुभव नहीं है इसे मोदी ने स्वीकारा भी, लेकिन जब तीन बार लगातार मुख्यमंत्री बने रहे तो दुनिया ने भी स्वीकारा कि सबसे सफल मुख्यमंत्री मोदी हैं।

उन्होंने कहा कि आप देखिए कि 2014 से पहले की काशी और आज की काशी में कितना अंतर आया है। देश के इतिहास में शायद ही कोई चुनाव ऐसा हुआ होगा, जिसमें कोई प्रत्याशी अपने नामांकन के बाद वहां की जनता पर भरोसा करके वापस आ गया होगा। आपने मोदी का ये भरोसा कायम रखा। आप सभी बहुत भाग्यशाली हैं कि मोदी जैसा जनप्रतिनिधि काशी के कार्यकर्ताओं को मिला है। मोदी मणिनगर विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायक बने थे और फिर मुख्यमंत्री बने। जब उन्होंने ये पद छोड़ा तब मणिनगर देश का सबसे विकसित विधानसभा क्षेत्र था।

मोदी के पिछले 5 साल के कार्यकाल में गंगा के घाट देखिए, एयरपोर्ट से काशी की रोड को देखिए, बिजली के तारों को जमीन के भीतर डालने का काम देखिए, सीवर योजना को देखिए, हर योजना में डिटेल प्लानिंग से काम किया गया है। आज आप योगी सरकार के विकास के आंकड़े देख लें और भाजपा का संकल्प पत्र उठाकर देख लें। संकल्प पत्र में जो भी वादे भाजपा ने किए थे उसे एक एक करके पूरा किया जा रहा है।

Related Stories:

RELATED मुख्यमंत्री बोले- छोड़ेंगे नहीं, या तो बदमाश बदमाशी छोड़ दें या फिर हरियाणा