MP में डोर बैल खराब है, दरवाजा खुलवाने के लिए चिल्लाना होगा 'मोदी-मोदी'

मुरैना: एयर स्ट्राइक के बाद पीएम मोदी का मैजिक लोगों के सिर चढ़कर इस कदर बोल रहा है कि साड़ियों, पोस्टर्स, पिचकारी, टीशर्टस, पंतग जहां तक कि लोगों की डोर बैल पर भी इसका असर देखने को मिल रहा है। जी हां यह हैरान करने वाला वाक्य मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में देखने को मिला जहां मोदी समर्थकों ने पीएम मोदी के नाम के पोस्टर घर के बाहर लगाए हुए हैं। जिस पर लिखा है ''डोर बेल खराब है। कृपया दरवाजा खुलवाने के लिए मोदी-मोदी चिल्लाएं।'' आने जाने वाला हर शख्स हैरान हो रहा है क्योंकि पीएम मोदी के प्रचार का यह अनोखा तरीका पहली बार देखने को मिल रहा है।

PunjabKesari


दरअसल, लोकसभा चुनाव के चलते हर कोई अपनी पंसद की नेता के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है और पार्टी के प्रचार प्रसार में मशगूल है। लेकिन रामनगर क्षेत्र में करीब आधा सैकड़ा घरों के दरवाजों पर लगे पोस्टर इन दिनों चर्चा का विषय बने हुए है। दरवाजों के समीप पोस्टर पर लोगों ने प्रिंट कराया है डोर बेल खराब है। कृपया दरवाजा खुलवाने के लिए मोदी-मोदी चिल्लाएं। मोदी रंग में रंगे लोगों ने बताया कि, वे मोदी के समर्थक हैं और उनकी नीतियां देश के लिए अच्छी हैं। इसलिए उन्होंने उनके समर्थन में डोर बैल की घंटी के नीचे लिखवाया है। रोचक बात यह है कि यहां से गुजरने वाला हर शख्स ये पोस्टर देखकर चौंक रहा है, गाड़ी से गुजरने वाले लोग भी दो मिनट रुककर पोस्टर देख और पढ़ रहे हैं, कई लोग तो इसके साथ सेल्फी या फोटो भी ले रहे है। इन पोस्टर्स का कुछ लोग मजाक उड़ा रहे हैं तो कुछ लोग प्रशंसा कर रहे है।

PunjabKesari

पीएम मोदी के लिए कुछ हटकर करने की चाह में रामनगर निवासी गिर्राज शर्मा ने बताया कि उनके घर की घंटी खराब हो गई थी। तभी उन्होंने अपनी डोरबेल के नीचे कागज पर लिखवाया कि डोरबेल खराब है। इसलिए घंटी न बजाएं। बल्कि मोदी-मोदी चिल्लाएं। इसी तरह मोहल्ले के ही दिनेश सिंघल ने बताया कि उनके घर की घंटी भी बहुत पहले खराब हो गई। जब उन्‍होंने गिर्राज शर्मा के यहां देखा तो उन्होंने भी अपने घर की दीवार पर लिख दिया। यह सिलसिला ऐसे ही चलता रहा और आधा सैंकड़ा लोगों ने यह फार्मूला अपना लिया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!