मोदी ने आज में जारी रखा असत्य का प्रचार-प्रसार: कमलनाथ

भोपाल:मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खरगोन की सभा पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि उन्हे उम्मीद थी कि मोदी प्रचार के अंतिम दिन अपने पांच वर्षो के कार्यकाल का हिसाब देंगे, लेकिन आज भी उन्होंने अपने असत्य का प्रचार प्रसार जारी रखा। कमलनाथ जारी बयान में मोदी की खरगोन सभा पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। उन्होंने कहा कि मोदी ने उत्तर प्रदेश के मेरठ से प्रचार प्रारंभ कर जो असत्य बोलना चालू किया, उसे आज प्रचार समाप्ति के अंतिम दिन तक जारी रखा। 

उन्होंने कहा कि मोदी ने आज कहा कि किसानों के घर कर्ज वसूलने पुलिस जा रही है, जबकि पूरे मध्यप्रदेश में एक भी ऐसा उदाहरण नहीं है कि जहां पुलिस किसी भी किसान के घर कर्ज की वसूली के लिए जा रही हो। उन्होंने कहा कि हमने 21 लाख किसानों का अपने वादे के मुताबिक दो लाख तक का कर्ज माफ किया है। हमने तो प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के भाई और परिजनों का भी क़र्ज़ माफ किया है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार और कांग्रेस किसान हितैषी है। हम तो किसानो के सम्मान के रक्षक हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने तो किसानो की छाती पर गोलियां चलवाई थी। उनके कपड़े उतरवाकर उन्हें जेल में बंद किया था। कमलनाथ ने कहा कि हमारी कर्ज माफी के गवाह तो प्रदेश के 21 लाख किसान हैं और वैसे भी प्रदेश का किसान तो कर्ज माफी पर खुश होकर मोदी से सवाल पूछ रहा है आपने बोनस बंद क्यों किया। फसल के दाम क्यों नहीं बढ़ाए। बीमा कंपनियों को बीमा योजना के नाम पर करोड़ों रुपए का फायदा क्यों पहुंचाया। आपने किसानो की आय दोगुनी का वादा किया था, उसका क्या हुआ।

कमलनाथ ने बताया कि मोदी बिजली सप्लाई को लेकर भी आज फिर असत्य परोस गये। जबकि सच्चाई यह है कि प्रदेश में बिजली सरप्लस मौजूद है। बिजली का कोई संकट प्रदेश में नहीं है। आज भी डिमांड की शत-प्रतिशत पूर्ति हम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी एक ओर असत्य परोस रहे है कि कांग्रेस ने आदिवासियों का भला नहीं चाहती। उन्होंने कहा कि श्री मोदी को तो यह बताना चाहिये था कि उन्होंने पांच साल में आदिवासियों के लिए क्या किया। हमारी सरकार ने वन अधिकार कानून लाया। लघु वनोपज का न्यूनतम मूल्य निर्धारित किया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!