वार्ड नंबर-1 के रिहायशी क्षेत्र में पुलिस प्रशासन की शह पर लगाया जा रहा मोबाइल टावर

बरनाला (ब्यूरो): कस्बा भदौड़ के वार्ड नंबर-1 के रिहायशी क्षेत्र में वार्ड के लोगों के विरोध के बावजूद पुलिस प्रशासन की शह पर निजी कंपनी द्वारा आज मोबाइल टावर लगाया जा रहा था। वार्ड नंबर-1 के मोहल्ला वासी गोबिन्द सिंह,कुलदीप सिंह,संदीप सिंह,जगसीर सिंह,रूलदू सिंह,सुखदेव सिंह,गुरमेल सिंह,शमशेर सिंह,काका सिंह,ङ्क्षबदर सिंह,स्वर्ण कौर,जगसीर सिंह,बग्गा सिंह,रेशम सिंह,छोटा सिंह,चरणजीत कौर,रूप सिंह, किरणजीत कौर,किरण कौर,परमजीत कौर,बलजिंद्र कौर, कुलदीप कौर, रछपाल कौर, लाभ सिंह व सतनाम सिंह ने कहा कि जीयो कंपनी द्वारा हमारे रिहायशी क्षेत्र में आज पुलिस प्रशासन की शह पर मोबाइल टावर लगाया जा रहा है हम इसका पिछले कई दिनों से विरोध कर रहे थे परंतु आज मेाबाइल कंपनी द्वारा पुलिस प्रशासन की शह पर हमारे रिहायशी मोहल्ले में टावर लगाया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि इस टावर की मंजूरी रिहायशी क्षेत्र में होनेे के  कारण नगर कौंसिल भदौड़ के कार्यसाधक अफसर द्वारा दी गई है जोकि गरीब मजदूरों के साथ धक्का है। खबर लिखे जाने तक मोबाइल कंपनी द्वारा टावर लगाने के लिए पिल्लरों का निर्माण किया जा रहा था व वार्ड नंबर-1 के वासियों द्वारा इसका विरोध किया जा रहा था परंतु वार्ड नंबर-1 में ड्यूटी मैजिस्ट्रेट गुरमुख सिंह,थाना भदौड़ के एस.एच.ओ. गौरववंश सिंह, थाना शैहणा के एस.एच.ओ. जसवीर कौर अपनी भारी पुलिस पार्टी के साथ टावर वाली जगह पर उपस्थित थे।वार्ड नंबर-1 के वासी रुलदू सिंह,शमशेर सिंह,गोबिन्द सिंह ने बातचीत करते बताया कि आज सुबह समय थाना भदौड़ से फोन आया कि मोबाइल टावर वाले आए हुए हैं, हम आपकी बातचीत करवा देते हैं परंतु बातचीत तो क्या करवानी थी पुलिस द्वारा हमारे प्रधान व्यक्ति जिनमें कुलदीप सिंह,हरप्रीत सिंह,दीपा सिंह,सुखदेव सिंह,सत्ती सिंह को थाने में बुलाकर बैैठा लिया गया है ताकि ये लोग टावर लगने का विरोध न कर सकें।    

क्या कहना है एस.एच.ओ. गौरववंश सिंह का
थाना भदौड़ के एस. एच.ओ. गौरववंश सिंह से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि जिला बरनाला के डिप्टी कमिश्रर की हिदायतों पर व ड्यूटी मैजिस्ट्रेट की हाजिरी में यह टावर लग रहा है। उन्होंने कहा कि मोबाइल कंपनी द्वारा एस.एस.पी. साहिब बरनाला से सुरक्षा अमले की मांग की थी इसलिए हम यह टावर लगवाने के लिए आए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि मोबाइल कंपनी के पास टावर लगवाने की कार्यसाधक अफसर से मंजूरी भी है। 

PunjabKesari

क्या कहना है ड्यूटी मैजिस्ट्रेट गुरमुख सिंह का 
मैजिस्ट्रेट गुरमुख सिंह से बातचीत की तो उन्होंने क हा कि जो यह टावर लग रहा है वह बिल्कुल कानून के अनुसार लग रहा है। मोबाइल कंपनी के पास इस टावर को लगाने की मंजूरी है।    
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED चुनाव दौरान प्रशासन पर लगाया अकाली दल की सहायता करने का आरोप