हमीरपुर में दिया 'सोच बदलें, शौचालय बनाएं' का संदेश (Video)

हमीरपुर (अरविंदर): विश्व शौचालय दिवस के उपलक्ष्य में पंचायत समीति हाल हमीरपुर में एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता उपनिदेशक एवं परियोजयना अधिकारी जिला ग्रामीण विकास अभिकरण हमीरपुर सुनील चंदेल द्वारा की गई। इस कार्यशाला में खंड विकास अधिकारी अस्मिता ठाकुर ने बैठक में आए पंचायत प्रधानों, महिला मंडल के प्रधान सचिव एव सदस्यों का स्वागत किया गया व स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के बारे में विस्तृत जानकारी दी। कार्यशाला में पंचायत प्रधानों एवं महिला मंडल के प्रधानों से अनुरोध किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत सपने को साकार करने के लिए घर-घर  संदेश पहुंचाए तथा सडऩे-गलने वाले कूड़े-कचरे को घर में ही अलग करें तथा पंचायत स्तर पर कूड़ा छांटने का केंद्र्र बनाएं।


खुले में शौच से बीमारियां फैलने का होता है खतरा
उपनिदेशक एवं परियोजना अधिकारी सुनील चंदेल द्वारा वर्कशॉप में आए हुए प्रतिभागियों को शौचालय बनाने एवं उसके प्रयोग के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि सभी पैट्रोल पंपों में सरकारी दिशा-निर्देशों अनुसार सार्वजनिक शौचालय बनाए गए हैं जोकि आम जनता के प्रयोग के लिए हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि खुले में शौच जाने से बीमारियों के फैलने का खतरा होता है।

लोगों को जागरूक करने का लिया संकल्प
ग्राम पंचायतों से आईं हुई महिलाओं ने बताया कि विश्व शौचालय दिवस के अवसर पर सभी ने संकल्प लिया है कि लोगों को जागरूक करेंगे। उन्होंने बताया कि महिला मंडल की महिलाओं के द्वारा अपने आसपास और लोगों को शौचालय के बारे में जानकारी दी जाएगी।

इन्होंने लिया कार्यशाला में भाग
इस कार्यशाला में समान शिक्षा एवं खंड योजना अधिकारी राजेश कुमार, जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन अनिल बटियात, खंड समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन मनोरमा देवी, पंचायत प्रधान मति-टीरा गुरदेव जगोता, प्रधान ग्राम पंचायत वजूरी, बलवंत सिंह, बस्सी-झनियारा की प्रधान सोमा देवी, मंझोग सुल्तानी सरोज, धनेड़ ग्राम पंचायत प्रधान जोगिन्द्र सिंह, चंगर के प्रधान बर्फी राम, एवं समस्त महिला मंडल के प्रधानों सचिवों व महिला सदस्यों ने भाग लिया।

Related Stories:

RELATED टॉयलेट में कपों को धुला, और मंत्री जी के पेश-ए-खिदमत कर दी 'स्पेशल' चाय