सदियों से बढ़ता जा रहा है ये शिवलिंग, जानें कहां है

ये नहीं देखा तो क्या देखा(video)
देशभर में भगवान शिव के ऐसे कई मंदिर स्थापित हैं, जहां भोलेनाथ अपने लिंग रूप यानि शिवलिंग के रूप में स्थापित हैं। आज हम आपको ऐसे ही मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां एक ऐसा शिवलिंग स्थापित है, जिसका रोज़ाना आकार बढ़ता जा रहा है। आप में से बहुत से लोग इस बात पर यकीन नहीं करेंगे। लेकिन आपको बता दें कि ये सच है। खजुराहो में भोलेनाथ एक ऐसा मंदिर है, जहां स्थापित शिवलिंग बहुत अद्भुत अविश्वसनीय है। तो चलिए जानते हैं इस मंदिर के बारे में- 


मध्यप्रदेश के छतरपुर ज़िले में मतंगेश्वर महादेव मंदिर है, जहां शिवलिंग 9 फीट जमीन के अंदर और  9 फीट ही ज़मीन के बाहर भी है। कहा जाता है कि इस भव्य मंदिर को 920 ई. में चंदेला राजा हर्षवर्मन ने बनवाया था। यहां के लोगों के मानें तो खजुराहो के पुरातत्व मंदिरों में यह एकलौता ऐसा मंदिर है, जिसमें अब भी पूजा-पाठ होता है। मंदिर के पुजारियों का कहना है कि  
हर साल कार्तिक माह की शरद पूर्णिमा के दिन यहां स्थापित शिवलिंग का आकार एक तिल के बराबर बढ़ जाती है। 

इस मंदिर से जुड़ी एक पौराणिक कथा के अनुसार भगवान शंकर ने एक मरकत नामक मणि युधिष्ठिर को दी थी। युधिष्ठिर के बाद ये मणि मतंग ऋषि को मिली, जिसे उन्होंने राजा हर्षवर्मन को सौंप दिया। कहा जाता है कि ये मणि इस शिवलिंग में इस मणि को गाड़ दिया गया था। जिस कारण इस मंदिर का नाम मंतगेश्वर महादेव रखा गया। बता दें कि खजुराहो में मंतगेश्वर की बहुत महत्ता है, यहां लोग इनकी पूजा किए बिना किसी भी प्रकार का कोई शुभ कार्य नहीं करते। 

कौन है GOLDEN BABA, क्या आप इनके बारे में जानते हैं ?(video)
 

Related Stories:

RELATED सदियां से बढ़ता जा रहा है ये शिवलिंग, जानें कहां हैं