गांव वालों ने नहीं दिया कंधा, तो साइकिल पर शव को बांधकर ले गया जीजा

नेशनल डेस्क: सरकार के कई वादों के बाद भी हमारे देश में कई बार ऐसी घटनाएं सामने आती हैं जिन्हें देखकर मानवता भी शर्मसार हो जाती है। ऐसा ही कुछ ओडिशा में देखने को मिला। जहां एक महिला की मौत के बाद उनके शव को कंधा देने के लिए चार लोग नहीं मिले। जिस कारण व्यक्ति को अपनी साली के शव को रस्सी से साइकिल में बांध श्मशान घाट ले जाकर अंतिम संस्कार करना पड़ा।
PunjabKesari यह घटना बौद्ध जिले के ब्राह्मणपाली पंचायत के तहत आने वाले कृष्णपाली गांव की है। गांव के चतुर्भुज बांक नामक युवक की पहली पत्नी से कोई बच्चा नहीं था, जिसके कारण उन्होंने दूसरी जाति की लड़की से शादी कर ली। यह बात गांव वालों को बर्दाश्त नहीं हुई और चतुर्भुज को गांव से बहिष्कृत कर दिया गया। वहीं सास ससुर की मौत के बाद चतुर्भुज की साली पंचा उनके घर रहने लग गई थी। 

PunjabKesari
पंचा कई दिनों से डायरिया से पीड़ित थी, जिसके बाद उसे मंगलवार को बौद्ध अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। दिहाड़ी मजदूर चतुर्भुज ने गांव वालों से पंचा के अंतिम संस्कार के लिए मदद मांगी लेकिन सभी ने इंकार कर दिया। मदद न मिलने के कारण चतुर्भुज अपनी साली से शव को साइकिल पर बांधकर श्मशान ले गया और अंतिम क्रिया पूरी की। बता दें कि राज्य सरकार ने एक महाप्रयाण योजना भी चलाई है जो लोगों को अस्पताल से लेकर घर तक सेवा मुहैया कराती है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!