मालविंदर सिंह की बढ़ी मुश्किलें, NCLT ने जारी किया नोटिस

बिजनेस डेस्कः फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रवर्तक मालविंदर सिंह की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) ने मालविंदर सिंह, सुनील गोधवानी और अन्य को नोटिस जारी किए हैं। यह नोटिस आरएचसी होल्डिंग को लेकर जारी किए गए हैं। इस मामले की अगली सुनवाई 9 अक्टूबर को होगी।

PunjabKesari

शिविंदर सिंह ने लगाए ये आरोप
एनसीएलटी ने मालविंदर और अन्य को 10 दिन के भीतर जवाब देने और शिविंदर को दो सप्ताह में अपना उत्तर देने को कहा है। छोटे भाई शिविंदर सिंह ने आरोप लगाया कि उनके बड़े भाई मालविंदर मोहन सिंह ने उनकी पत्नी के जाली हस्ताक्षर किए, अवैध वित्तीय लेनदेन किया और कंपनी को असहनीय कर्ज जाल में झोंक दिया। एनसीएलटी की दिल्ली पीठ के समक्ष दायर याचिका में शिविंदर ने कंपनियों में कुप्रबंधन और उत्पीड़न के लिए मालविंदर सिंह पर आरोप लगाया है।

PunjabKesari

जमा कराने होंगे 35 लाख सिंगापुरी डॉलर 
वहीं दिल्ली हाई कोर्ट ने मालविंदर सिंह को अदालती आदेश के उल्लंघन के लिए 35 लाख सिंगापुरी डॉलर जमा कराने का निर्देश दिया है। मालविंदर ने यह राशि एक कंपनी में अपने शेयर बेचकर प्राप्त की थी, जो अदालत के आदेश का उल्लंघन है। हाई कोर्ट ने मालविंदर और उनके भाई शिविंदर सिंह को अपनी संपत्तियों की बिक्री नहीं करने का निर्देश दिया था।

PunjabKesari

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED NCLT ने शिविंदर को बड़े भाई मालविंदर के खिलाफ याचिका वापस लेने की अनुमति दी