महाराष्ट्र में जमीन की रजिस्ट्री होगी आसान

मुंबईः महाराष्ट्र में जमीन की रजिस्ट्री होगी आसानवाहन बनाने वाली घरेलू कंपनी टाटा मोटर्स का एकीकृत शुद्ध लाभ 31 मार्च को समाप्त चौथी तिमाही में 49 प्रतिशत घटकर 1,108.66 करोड़ रुपए रह गया। टाटा मोटर्स ने सोमवार को शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2017-18 की इसी तिमाही में कंपनी को 2,175.16 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। आलोच्य तिमाही में कंपनी की कुल आय 87,285.64 करोड़ रुपए रही जो एक साल पहले 2017-18 की चौथी तिमाही में 91,643.44 करोड़ रुपए थी। पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी को 28,724.20 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ जबकि इससे पूर्व वित्त वर्ष में 9,091.36 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी की कुल आय आलोच्य वित्त वर्ष में 3,04,903.71 करोड़ रुपए रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष 2017-18 में 2,96,298.23 करोड़ रुपए थी। एकल आधार पर 2018-19 में कंपनी का शुद्ध लाभ 2,398.93 करोड़ रुपए रहा जबकि इससे पूर्व वित्त वर्ष में उसे 946.92 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ था। टाटा मोटर्स का शेयर 7.53 प्रतिशत की बढ़त के साथ 190 रुपए पर बंद हुआ। 

जीएसके फार्मा का लाभ 16% बढ़ा
दवा कंपनी ग्लैक्सो स्मिथ क्लाइन फार्मास्युटिकल्स का एकल शुद्ध लाभ मार्च में समाप्त वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 16.56 प्रतिशत बढ़कर 123.03 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की इसी तिमाही में कंपनी को 105.55 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक समीक्षावधि में कंपनी की परिचालन से एकल आय 751.22 करोड़ रुपए रही जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 748.62 करोड़ रुपए थी। पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी का शुद्ध लाभ 425.36 करोड़ रुपए रहा और उसकी आय 3,128.53 करोड़ रुपए रही। 2017-18 में यह आंकड़े क्रमश: 351.98 करोड़ रुपए और 2,895.88 करोड़ रुपए थे। कंपनी के निदेशक मंडल ने पूरे वित्त वर्ष के लिए 10 रुपए अंकित मूल्य वाले शेयर पर 20 रुपए का लाभांश देने की सिफारिश की है। 

पूर्वांकरा का मुनाफा बढ़ा
रियल्टी कंपनी पूर्वांकरा लिमिटेड का शुद्ध लाभ मार्च 2019 को समाप्त चौथी तिमाही में 58 प्रतिशत की जोरदार वृद्धि के साथ 38.78 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। बेंगलूरू स्थित इस रियल्टी कंपनी को एक साल पहले इसी तिमाही में 24.55 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हासिल हुआ था। कंपनी की यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार जनवरी से मार्च 2019 की चौथी तिमाही में आय दो गुना से भी अधिक बढ़कर 667.08 करोड़ रुपए हो गई। एक साल पहले इसी तिमाही में कंपनी की आय 323.25 करोड़ रुपए थी। पूरे वित्त वर्ष की यदि बात की जाए तो कंपनी की 2018- 19 में कुल आय 2,126.72 करोड़ रुपए रही जबकि इससे पिछले वर्ष यह 1,504.94 करोड़ रुपए थी। कारोबार के लिहाज से पूर्वांकरा लिमिटेड ने पिछले वित्त वर्ष में 2,098 करोड़ रुपए में 3,429 मकान बेचे। यह संख्या इससे पिछले वर्ष 1,881 करोड़ रुपए में 2,781 मकान की बिक्री रही। कंपनी के प्रबंध निदेशक अशीष आर पूर्वांकरा ने कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 कंपनी के लिए सकारात्मक रुख के साथ समाप्त हुआ। इस दौरान कारोबारी गतिविधियां लगातार बेहतर रहीं और हम बाजार हिस्सा बढ़ाने की रास्ते पर बने रहे जिससे मजबूत और सतत वृद्धि का रुख बना रहा। 

Related Stories:

RELATED महाराष्ट्र में विपक्ष ने की मुस्लिम आरक्षण की मांग, सरकार ने किया विरोध