Kundli Tv- ये 3 चमत्कारी मंत्र जीवन की डूबती नैय्या को लगाएंगे पार

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
हिंदू धर्म में मंत्र साधना आदि का महत्व है, लेकिन बहुत कम लोग जानते होंगे कि सबसे पहले भगवान गणेश जी के मंत्रों का जाप किया जाता है। किसी भी पूजा आधि में सबसे प्रथम पूज्य भगवान गणेश होने के कारण हर शुभ कार्य में इनकी पूजा-अर्चना व इनके मंत्रों जाप किया जाता है। तो आइए आज हम आपको श्री गणेश से संबंधित 3 एेसे चमत्कारी मंत्रों के बारे में बताते हैं, जिनका जाप करने से आपकी जीवन की डूबती नैय्या पार हो जाएगी। 


गणेश जी के यह 3 विलक्षण अमोघ मंत्र-
माना जाता है कि भगवान गणेश अपने हर स्वरूप में भक्तों को प्रसन्नता और खुशियों का वरदान देते हैं। इनकी आराधना करने वाले प्रत्येक प्राणी की सभी कामनाएं पूर्ण होती है। यहां जानें इनके तीन 3 ऐसे चमत्कारी मंत्र जिनका विधिवत जाप करने से 11 दिन में जीवन बदल जाता है। 

गणेश गायत्री मंत्र
ॐ एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात।।

ज्योतिष के अनुसार गणेश गायत्री का 11 दिन शांत मन से 108 बार जाप करने से गणेश जी की विशिष्ट कृपा होती है। इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि गणेश गायत्री मंत्र के जाप से व्यक्ति का भाग्य चमक जाता है और हर काम अनुकूल सिद्ध होने लगता है। 

तांत्रिक गणेश मंत्र
ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
ग्लौम गणपति, ऋद्धि पति, सिद्धि पति। करों दूर क्लेश।।

इस मंत्र का 11 दिन तक 108 बार जाप करने से व्यक्ति के जीवन के सारे क्लेश समाप्त होते हैं। धन, धान्य, संपत्ति, समृद्धि, खुशियां, वैभव, पराक्रम, विद्या और शांति की प्राप्ति होती है। लेकिन ध्यान रहे कि इस मंत्र के प्रयोग के समय व्यक्ति को पूर्ण सात्विकता रखनी होती है। इसलिए क्रोध, मांस, मदिरा, पर स्त्री संबंधों से दूर रहें।

गणेश कुबेर मंत्र
ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।

गणेश कुबेर मंत्र अपार लक्ष्मी देने वाला है। ज्योतिष का मानना है कि गणेश जी की पूजा करने के बाद इस मंत्र का 11 दिन तक नियमित रूप से जाप करने से व्यक्ति को धन के नवीन स्त्रोत मिलना आरंभ होते हैं। जीवन में खुशियां दस्तक देने लगती है।
आखिर परशुराम ने अपनी माँ को क्यों मार डाला ? (VIDEO)

Related Stories:

RELATED Kundli Tv-  शनिवार को कर लें ये काम नहीं पड़ेगी शनि की टेढ़ी नज़र