लोकसभा चुनाव 2019: भाजपा को SP-BSP गठबंधन से खतरा

लखनऊ:भारतीय राजनीति व चुनाव पर 1990 से गहन अध्ययन व शोध करके पुस्तक लिख रहे अर्थशास्त्री, राजनीतिक विश्लेषक व पत्रकार प्रवासी भारतीय रूचिर शर्मा का कहना है कि नरेंद्र मोदी को 2010 लोकसभा चुनाव में जीतने की संभावना 50 प्रतिशत है। चुनाव में उत्तर प्रदेश में सपा, बसपा, कांग्रेस व रालोद गठबंधन की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण रहेगी। भाजपा को सपा-बसपा गठबंधन से सबसे बड़ा खतरा उत्तर प्रदेश में है जिसका असर पूरे देश पर पड़ेगा।

यदि बसपा-सपा गठबंधन हो गया तो इसका सबसे अधिक नुकसान भाजपा को होगा। उधर बी.एच.यू आई.आई.टी. के छात्र रहे पूर्व सांसद हरिकेश बहादुर का कहना है कि इसका प्रमाण उत्तर प्रदेश में 2017 में हुए विधानसभा चुनाव नतीजों ने दे दिया है। भाजपा को 325 सीटें तथा 41.4 प्रतिशत वोट मिले थे।

बसपा अकेले चुनाव लड़ी थी, जिसको 19 सीटें और 22.2 प्रतिशत वोट मिले थे। कांग्रेस व सपा मिलकर लड़े थे जिनको 54 सीटें तथा 28.2 प्रतिशत वोट मिले थे जबकि रालोद को 2 प्रतिशत वोट मिले थे। इसमें यदि सपा, कांग्रेस, बसपा, रालोद को मिले वोट जोड़ दिए जाते हैं तो कुल वोट प्रतिशत 52.4 प्रतिशत हो जाता है जो कि भाजपा नीत गठबंधन को मिले 41.4 प्रतिशत वोट से 11 प्रतिशत अधिक है।

Related Stories:

RELATED महागठबंधन: कांग्रेस का हाथ झटकने की तैयारी में सपा-बसपा