Kundli Tv- मेहनत करने पर भी हो रही है टॉय-टॉय फिस, जानें कारण

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)


ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जिस किसी की कुंडली में गुरू ग्रह से जुड़ा कोई दोष हो तो उस व्यक्ति को भाग्य का साथ कभी नहीं मिल पाता। उसके जीवन में धन-संबंधी परेशानियो के अलावा कई ओर मुश्किलें पैदा हो जाती है। हिंदू धर्म में बृहस्पति देव को भाग्य का कारक ग्रह माना जाता है। मान्यता है कि इनसे शुभ फलों की प्राप्ति के लिए गुरूवार को कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो बहुत अच्छे परिणाम मिलते हैं। तो आईए जानते हैं कि गुरू ग्रह से संबंधित कुछ एेसे जिन्हें करने से भाग्य की सभी बाधाओं को दूर किया जा सकता है और साथ ही कुंडली के दोष भी खत्म हो जाते हैं। 

हर गुरुवार को तांबे के लोटे में पानी लें और केसर मिलाएं। इसके बाद ये जल शिवलिंग पर चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय ॐ नम: शिवाय मंत्र का जाप करते रहें। इस उपाय से भाग्य से जुड़ी परेशानियां खत्म हो सकती हैं।

धन संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए घर के मुख्य द्वार पर श्रीयंत्र रखकर उसकी पूजा करें।

मान्यता के अनुसार शुक्ल पक्ष में आने वाले गुरुवार को अपनी पत्नी, बहन, बेटी या माता से घर के मुख्य द्वार पर गंगाजल का छिड़काव करने से नकारात्मकता दूर हो सकती है।

गुरुवार को गंगाजल छिड़कने के बाद द्वार पर स्वस्तिक बनाएं। स्वस्तिक श्री गणेश का प्रतीक होता है। इसकी पूजा करें और परेशानियों को दूर करने की प्रार्थना करें।

सुबह जल्दी उठें। स्नान आदि कर्मों के बाद किसी मंदिर जाएं और छोटे बच्चों को केले वितरित करें।

घर से दरिद्रता को दूर करने के लिए मुख्य द्वार पर सुबह रंगोली बनाएं। ये एक प्राचीन परंपरा है। रंगोली से देवी लक्ष्मी और अन्य सभी देवी-देवता हमारे घर की ओर आकर्षित होते हैं। इसके शुभ असर से घर के वास्तु दोष भी दूर होते हैं।

मुख्य द्वार पर किसी भी गुरुवार को अपने इष्टदेव का प्रतीक चिह्न जैसे स्वस्तिक, ॐ त्रिशूल आदि बनाएं। इसके बाद रोज सुबह इस चिह्न की पूजा करें। ऐसा करने से घर में बरकत बनी रहती है।
ऑफिस की नींव रखने से पहले बरतें ये सावधानियां(देखें VIDEO)
 

Related Stories:

RELATED Kundli Tv- कामयाबी ही शिखर पर पहुंचाएगा ये मंत्र