जानिए पोस्ट पेमेंट्स बैंक के बारे में खास बातें, मोबाइल पर खुद ही खोल सकते हैं अकाउंट

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) को हरी झंडी दे दी है। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक 3 तरह के सेविंग अकाउंट खोलने की सुविधा देगा। इनमें रेगुलर सेविंग अकाउंट, डिजिटल सेविंग अकाउंट और बेसिक सेविंग अकाउंट शामिल हैं। ये अकाउंट जीरो बैलेंस पर खोले जा सकते हैं। इन सभी के लिए सालाना ब्‍याज दर 4 फीसदी रहेगी।

व्यक्ति और छोटे कारोबार पेमेंट बैंक में अपना खाता खोल सकते हैं। खाता डाकघर जा कर या फिर पोस्ट मैन के जरिए खुलवा सकते हैं। यह पहला पेमेंट्स बैंक है जो लोगों को घर पर ही बैंकिंग सेवाएं देगा। जानिए कुछ खास बातों के बारे में...

कैसे खुलेगा मोबाइल पर अकाउंट?
डिजिटल सेविंग अकाउंट खोलने के लिए आप इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की एप्प मोबाइल पर डाउनलोड कर सकते हैं। अगर आप 18 वर्ष से ऊपर हैं और आपके पास आधार और पैन कार्ड है तो आप यह अकाउंट खोल सकते हैं। आधार और पैन कार्ड की मदद से आपका अकाउंट जल्द ही खुल जाएगा। डिजिटल अकाउंट से आप ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं, इसके अलावा बिल पेमेंट और रिचार्ज भी कर सकते हैं।

कहां खुलेगा रेगुलर और बेसिक अकाउंट?
रेगुलर बचत अकाउंट ब्रांच में जा कर और पोस्ट मैन की मदद से घर बैठे भी खुलवा सकते हैं। इस अकाउंट को पैसे जमा करवाने व निकलवाने और आसानी से पैसे भेजने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें पैसे निकलवाने की कोई भी लिमिट नहीं होगी। बेसिक अकाउंट के फीचर पूरी तरह से रेगुलर अकाउंट की तरह ही हैं लेकिन इसमें महीने के दौरान केवल 4 बार ही बिना चार्जेस के पैसे निकलवाने की मंजूरी है। 

4 फीसदी मिलेगी ब्याज
रेगुलर,बेसिक और डिजिटल बैंक अकाउंट पर 4 फीसदी ब्याज मिलेगा। घर बैठे खाता खुलवाने पर पोस्ट पेमेंट्स बैंक कोई शुल्क नहीं लेगा। दूसरे बैंकों की तरह इसमें मिनीमम बैलेंस रखना जरूरी नहीं है। अकाउंट की तिमाही स्टेटमेंट भी मुफ्त मिलेगी। 

Related Stories:

RELATED इंडिया पोस्ट बैंक के ग्राहकों पर भारी पड़ेगा शुल्क!