केजरीवाल के अस्पताल में नहीं जायेंगे हार्दिक – पास

अहमदाबादःपाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) ने आज इस बात से साफ तौर पर इंकार किया कि अपने आमरण अनशन के 14 वें दिन तबीयत बिगडऩे के कारण यहां सरकारी सोला सिविल अस्पताल के आपात चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराये गये इसके नेता हार्दिक पटेल को कर्नाटक के बेंगलुरू स्थित उस प्राकृतिक चिकित्सा केंद्र में भर्ती कराने की योजना बनायी जा रही है जहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की खांसी और मधुमेह का सफल इलाज किया गया था।



पास के प्रवक्ता मनोज पनारा ने यूनीवार्ता को बताया कि ऐसी कोई योजना नही है। इस तरह की रिपोर्टें पूरी तरह गलत हैं। हमने बेंगलुरू के जिंदल नेचर केयर इंस्टीट्यूट में हार्दिक के इलाज के लिए कोई अग्रिम समय नहीं लिया है। ज्ञातव्य है कि 25 अगस्त से यहां अपने आवास पर उपवास पर बैठे हार्दिक को आज तबीयत बिगडऩे के बाद यहां सोला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


शुरूआती रिपोर्ट के अनुसार उनके शरीर में इलेक्ट्रोलाइट संतुलन में गड़बड़ी है और पोटैशियम की कमी हो गयी है। उनके मूत्र में एसीटोन बढऩे का इलाज नस के जरिये तरल और दवाइयां देकर किया जा रहा है। उनके रक्त और मूत्र के कई नियमित जांच किये जा रहे हैं जिसमें किडनी और लीवर की कार्यक्षमता संबंधी जांच भी शामिल हैं।

Related Stories:

RELATED आयुर्वेद अस्पताल में भर्ती हुए हार्दिक, केजरीवाल की खांसी का भी हो चुका है इलाज