केजरीवाल के अस्पताल में नहीं जायेंगे हार्दिक – पास

अहमदाबादःपाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) ने आज इस बात से साफ तौर पर इंकार किया कि अपने आमरण अनशन के 14 वें दिन तबीयत बिगडऩे के कारण यहां सरकारी सोला सिविल अस्पताल के आपात चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराये गये इसके नेता हार्दिक पटेल को कर्नाटक के बेंगलुरू स्थित उस प्राकृतिक चिकित्सा केंद्र में भर्ती कराने की योजना बनायी जा रही है जहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की खांसी और मधुमेह का सफल इलाज किया गया था।

PunjabKesari

पास के प्रवक्ता मनोज पनारा ने यूनीवार्ता को बताया कि ऐसी कोई योजना नही है। इस तरह की रिपोर्टें पूरी तरह गलत हैं। हमने बेंगलुरू के जिंदल नेचर केयर इंस्टीट्यूट में हार्दिक के इलाज के लिए कोई अग्रिम समय नहीं लिया है। ज्ञातव्य है कि 25 अगस्त से यहां अपने आवास पर उपवास पर बैठे हार्दिक को आज तबीयत बिगडऩे के बाद यहां सोला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
PunjabKesari

शुरूआती रिपोर्ट के अनुसार उनके शरीर में इलेक्ट्रोलाइट संतुलन में गड़बड़ी है और पोटैशियम की कमी हो गयी है। उनके मूत्र में एसीटोन बढऩे का इलाज नस के जरिये तरल और दवाइयां देकर किया जा रहा है। उनके रक्त और मूत्र के कई नियमित जांच किये जा रहे हैं जिसमें किडनी और लीवर की कार्यक्षमता संबंधी जांच भी शामिल हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!