धन सिंह रावत की दो टूक- कश्मीरी छात्रों का वेरिफिकेशन के बाद होगा दाखिला

देहरादूनः उत्तराखंड के उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि दूसरे राज्यों विशेषकर कश्मीर से आने वाले छात्रों का यहां के विभिन्न शैक्षणिक संस्थाओं में नामांकन या दाखिला से पहले उनके बारे में पूरी जानकारी हासिल की जाएगी ताकि बाद में किसी तनाव की स्थिति से बचा जा सके।

जानकारी के अनुसार, कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद उत्तराखंड में कुछ कश्मीरी छात्रों की ओर से सोशल मीडिया पर आतंकियों का समर्थन किया गया था, जिसके बाद राज्य में इन कश्मीरी छात्रों का विरोध शुरू हो गया था। तब सरकार की ओर से भी छात्रों की सुरक्षा पर पूरा आश्वासन दिया गया था लेकिन अब धन सिंह रावत का कुछ अलग ही बयान सामने आया है। राज्य सरकार अब आतंकी समर्थित विचारधारा के युवाओं को किसी संस्थान में नामांकन देने से पहले उनके बारे में पूरी जानकारी जुटाएगी।

वहीं उच्च शिक्षा मंत्री का दो टूक कहना है कि अगर कोई छात्र संदिग्ध पाया जाता है तो उसे राज्य में दाखिला नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि होनहार और देशभक्त छात्रों को देश में कहीं भी दाखिला मिल सकता है लेकिन जो भी छात्र देश विरोधी गतिविधियों में शामिल पाया जाएगा उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

धन सिंह रावत का कहना है कि अगले सत्र से दूसरे राज्यों से आने वाले छात्रों के बारे में वहां के जिलाधिकारी और एसएसपी से उनका पूरा वेरिफिकेशन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सब कुछ सही पाए जाने पर ही बाहर से आए छात्रों को यहां कॉलेजों में दाखिला दिया जाएगा।
 

Related Stories:

RELATED Army ने India tour पर भेजे 20 स्कूलों से Kashmiri छात्र,  students में उत्साह