करतारपुर गलियाराः कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

नई दिल्लीःकांग्रेस ने भाजपा द्वारा नवजोत सिंह सिद्धू पर ‘पाकिस्तान की एजेंट की तरह बात करने’ का आरोप लगाये जाने को लेकर मंगलवार को पलटवार किया और पूछा कि क्या नरेंद्र मोदी सरकार सिखों को उनके पवित्र स्थल करतारपुर साहिब का दर्शन करने से रोकना चाहती है।



पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘‘सरदार नवजोत सिंह सिद्धू विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मिले और पत्रकार वार्ता में अपनी बात कह दी। सुषमा जी क्यों नहीं सामने आकर कह देती कि क्या वार्तालाप हुई? उन्हें और मोदी सरकार को क्यों तकलीफ हो रही है? क्या वे सिखों को दर्शन से रोकना चाहते हैं?’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर मोदी सरकार चाहती है कि सिख संगत को पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारे के दर्शन करने का अधिकार न हो, तो मोदी जी को सुषमा जी को ये बात कहनी चाहिए। उसमें न सिद्धू साहब बीच में आएंगे, न कांग्रेस आएगी, न कोई और व्यक्ति आएगा। वो कह दें कि किसी सिख को गुरुद्वारा (करतारपुर साहिब) के दर्शन करने का अधिकार नहीं है।’’ सुरजेवाला ने दावा किया, ‘‘ सिद्धू को लेकर भारतीय जनता पार्टी के मन में वैमनस्य, पीड़ा और तकलीफ है क्योंकि उन्होंने अकाली दल एवं भाजपा के भ्रष्टाचार को उजागर करने में अग्रणी भूमिका निभाई थी।’’



दरअसल, भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने मंगलवार को सिद्धू पर पाकिस्तान के एजेंट की तरह बात करने का आरोप लगाया। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को गले लगाने को ‘‘जायज’’ ठहरा कर तथा पड़ोसी देश में स्थित एक गुरूद्वारा में सिख श्रद्धालुओं को मंजूरी देने के पाक के इच्छुक होने का दावा कर सिद्धू ने भारत की गरिमा को कम किया है।



इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए सिद्धू ने दावा किया कि उन्होंने यह इसलिए किया क्योंकि बाजवा ने उन्हें बताया था कि पाकिस्तान सरकार भारतीय पंजाब से सिख तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर गलियारा खोलने के बारे में विचार कर रही है।

Related Stories:

RELATED सिद्धू के पाक प्रेम पर भाजपा का तंज, कहा- देश को बांटने का हो रहा प्रयास