कर्नाटक सरकार ने ओला कैब का लाइसेंस 6 महीने के लिए निलंबित किया, जानिए क्यों

बेंगलुरुः कर्नाटक के परिवहन विभाग ने ऐप बेस्ड कैब सर्विस प्रोवाइडर ओला के लाइसेंस को अगले 6 महीने के लिए निलंबित कर दिया है। ओला ऐप पर टैक्सी बुकिंग सेवा देने वाली प्रमुख कंपनी है। बड़ी संख्या में लोग ओला की व्हीकल्स का इस्तेमाल करते हैं। परिवहन विभाग ने कहा कि कंपनी को उसके आदेश की प्राप्ति के बाद 3 दिन के भीतर अपना लाइसेंस उसके पास जमा कराना होगा। साथ ही उसे शुक्रवार से तत्काल अपनी टैक्सी बुकिंग सेवा रोकने का भी आदेश दिया गया है। 

विभाग ने कहा कि कंपनी ने ओला का संचालन करने वाली कंपनी एनी टेक्नॉलजीज प्राइवेट लिमिटेड बेंगलुरु ने कर्नाटक ऑन-डिमांड परिवहन प्रौद्योगिकी एग्रीगेटर्स नियम-2016 का उल्लंघन किया है। इस संबंध में उप परिवहन आयुक्त और वरिष्ठ क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी, बेंगलुरु (दक्षिण) की रिपोर्ट के आधार पर उसका लाइसेंस 6 माह के लिए निलंबित किया जाता है। ओला ने कहा कि वह कानून का अनुपालन करने वाली कंपनी है और वह मामले के सौहार्दपूर्ण तरीके से समाधान के लिए सभी विकल्पों पर काम कर रही है।

ओला ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया
बैन के नोटिफिकेशन को ओला ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। कंपनी ने इसके साथ ही बयान जारी कर कहा कि वह कर्नाटक में अपने ड्राइवर-पार्टनर्स और कर्नाटक के लाखों ओला उपयोगकर्ताओं के लिए समाधान खोजने के लिए इन समस्याओं को सीधे संबोधित करने के अवसर का इंतजार कर रहा है। वह अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है और लगातार अपना सहयोग इस मामले में दे रहा है। इसके साथ-साथ वो सम्बंधित मंत्रालय के साथ भी लगातार संपर्क में है।

गौरतलब है कि जनवरी में, ओला ने बेंगलुरु की कुछ पोकटे में अपनी बाइक टैक्सी चलाना शुरू किया था लेकिन कैब एग्रीगेटर का कहना है कि यह पूर्ण रूप से 'बीटा पायलट' प्रोजेक्ट था। ये तब किया गया जब राज्य की नीति ने बाइक टैक्सियों को अनुमति दी थी। उस समय राज्य के परिवहन विभाग द्वारा एक कारण बताओ नोटिस जारी किया गया थ। उस समय ओला ने चार महीने के पायलट प्रोजेक्ट के लिए अनुमति देने का अनुरोध किया था। ओला ने कहा कि सेवाओं को फरवरी के अंत तक रोक दिया गया था। अभी राज्य में कोई भी दो पहिया टैक्सी पॉलिसी नहीं है।
 

Related Stories:

RELATED कौन है मधु जिसके लिए रो रहा है सारा कर्नाटक (Watch video)