ईसा मसीह की विवादित तस्वीर वायरल, प्रकाशक और पत्रकार गिरफ्तार

अमानः जॉर्डन में ईसा मसीह की विवादित तस्वीर वायरल होने पर बवाल मचने के बाद सोमवार को एक प्रकाशक और समाचार वेबसाइट के संपादक को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोप है कि ईसा मसीह की उक्त तस्वीर से ईसाईयों की भावनाएं आहत हुईं। द लास्ट सपर तस्वीर को बदलकर पत्रिका ने छापा था, जिसे लेकर सोशल मीडिया पर काफी विवाद हुआ।


समाचार वेबसाइट संचालित करने वाले मोहम्मद अल-वकील और एक संपादक पर सांप्रदायिक तनाव भड़काने का आरोप है। इस आरोप में दोषी पाए जाने पर उन्हें छह महीने से लेकर तीन साल तक की जेल की सजा हो सकती है। लियोनार्डो द विंची की मशहूर पेंटिंग द लास्ट सपर का ईसाई धर्म के लोगों में खास स्थान है। इसी तस्वीर को विवादित तरीके से छापने का आरोप पत्रकार और संपादक पर लगा है।

पत्रिका में द लास्ट सपर में बैकग्राउंड में तुर्की के सिलेब्रिटी शेफ नुसरत गोकसे जो सॉल्ट बे के नाम से मशहूर हैं को अपने सिग्नेचर स्टाइल में ईसा मसीह के पीछे खड़े हैं। वहीं तस्वीर में मौजूद ईसा मसीह के एक शिष्य के पैरों पर जीसस क्राइस्ट का टैटू भी बना हुआ है। पत्रिका में प्रकाशित यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है और इसकी काफी आलोचना हो रही है। हालांकि, विवाद के बाद पत्रिका ने तस्वीर हटा ली और इसके लिए माफी मांगते हुए कहा कि यह गैर-इरादतन था और इसका उद्देश्य किसी की भी धार्मिक भावनाएं आहत करना नहीं था।

Related Stories:

RELATED बर्फ से ढ़के हिमाचल की खूबसूरत तस्वीर