जोधा गिरोह के सदस्यों का रिकॉर्ड निकाल रही पुलिस

चंडीगढ़(सुशील): सब्जी विक्रेताओं को चाकू मारकर नकदी लूटने के मामले में पुलिस ने जोधा गिरोह के सरगना समेत सदस्यों का रिकार्ड बुडै़ल जेल और अन्य राज्यों की पुलिस से लेने में जुट गई है। इससे पहले शहर में सब्जी विक्रेताओं से इसी तरह लूट जोधा गिरोह ने की थी। क्राइम ब्रांच ने गिरोह के सरगना समेत अन्य सदस्य पकड़कर लूट की घटनाओं पर अकुंश लगाया था। 

अब  पुलिस पता कर रही है कि गिरोह के सरगना जालंधर स्थित शाहकोट के गांव भोयपुर निवासी योधा सिंह उर्फ जोधा, उसका भाई गुलाब सिंह, जीजा मोहाली स्थित कांसल निवासी अमरीक सिंह और सिरसा निवासी दविंदर सिंह जेल में है या फिर उन्हें जमानत मिल गई  है। पुलिस को शक है कि जेल से छूटने के बाद आरोपियों ने दोबारा से चंडीगढ़ में वारदात करनी शुरू कर दी है। इसका कारण है कि जिस तरह शनिवार तड़के सैक्टर-7 और सैक्टर 19/20 गुरुद्वारे के पर सब्जी विक्रताओं से लूट हुई है।

जनवरी से मार्च, 2018 तक कई वारदातें की थीं 
जोधा गिरोह के सदस्यों ने जनवरी से मार्च 2018 तक कई लूट की वारदात को अंजाम दिया था। गिरोह के सदस्य पंजाब से चंडीगढ़ आते और एक से चार बजे के बीच लूट की वारदात करके गाड़ी से फरार हो जाते थे। क्राइम ब्रांच ने नाकाबंदी कर सैक्टर-39 की जीरी मंडी के पास नाका लगाकर कार सवार उक्त लुटेरों को 5 अप्रैल को गिरफ्तार किया था। क्राइम ब्रांच ने इनकी निशानदेही पर चंडीगढ़ में रात के समय हुई लूट की आधा दर्जन वारदात सुलझाई थी। इसके अलावा गिरोह के सभी सदस्यों पर लूट, डकैती और एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत कई मामले दर्ज थे।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!