जेट एयरवेज की फ्लाइट कैंसिल होने से परेशान हुए यात्री, बनी असमंजस की स्थिति

नई दिल्लीः वित्तीय संकट से जूझ रही विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज में पहले से बुकिंग करा चुके यात्री को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दिनों दिन रद्द उड़ानों की संख्या बढ़ी रही है जिसके कारण यात्री असमंजस में हैं। कंपनी के पास करीब 120 विमानों का बेड़ा है जिनमें कम से कम 41 विमान पट्टे की किस्त नहीं चुका पाने के कारण ग्राउंडेड हैं। इसके आलवा अन्य कारणों से भी कुछ विमान परिचालन में नहीं हैं। 

यात्री हुए परेशान
एक यात्री तान्या थॉमस ने बताया कि उन्होंने कोच्चि के लिए जेट एयरवेज में अप्रैल की टिकट बुक कराई है। सोमवार रात उनके पास ईमेल आया कि वह उड़ान रद्द हो गई है। इसके बाद आज सुबह एसएमएस आया कि उड़ान दोबारा उसी समय पर निर्धारित की गई है। इस तरह यात्रियों में अनिश्चतता की स्थिति बन रही है। सूत्रों का कहना है कि कंपनी के मात्र 35 विमान परिचालन में हैं। 

प्रवक्ता ने नहीं दी सही जानकारी
रद्द उड़ानों की संख्या और परिचालन में मौजूद विमानों के बारे में ईमेल पर जानकारी मांगने पर कंपनी के एक प्रवक्ता ने फोन कर बताया कि वास्तव में इससे कहीं ज्यादा विमान परिचालन में हैं। हालांकि बार-बार पूछे जाने पर भी उन्होंने सही संख्या नहीं बताई। प्रवक्ता ने स्वीकार किया कि अन्य कारणों से भी कुछ विमान उड़ान नहीं भर रहे हैं। भारतीय हवाई यात्री संघ भी जेट एयरवेज के ग्राउंडेड विमानों की हर सप्ताह बढ़ती संख्या के मद्देनजर उसे ज्यादा लंबी अवधि की नई बुकिंग करने से रोकने के लिए नागर विमानन मंत्रालय से अनुरोध कर चुका है लेकिन नागर विमानन महानिदेशालय ने पिछले सप्ताह ही स्पष्ट किया है कि अभी कोई ऐसी योजना नहीं है।
 

Related Stories:

RELATED अमृतसर हवाई अड्डे से जेट एयरवेज ने भरी आखिरी उड़ान !