उत्तराधिकार योजना की घोषणा करेंगे जैक मा, रिटायर होने की खबरें गलत

बीजिंगः अलीबाबा के सह-संस्थापक एवं चेयरमैन जैक मा सोमवार को अपनी उत्तराधिकार योजना स्पष्ट करेंगे। चीन के अखबार साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने रविवार को यह खबर प्रकाशित की। खबर के अनुसार कंपनी के एक प्रवक्ता ने न्यूयॉर्क टाइम्स की उस खबर को खारिज किया जिसमें जैक मा के सोमवार को सेवानिवृत्त होने की बात कही गई थी। 

अलीबाबा के स्वामित्व वाले अखबार साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने कहा कि जैक मा सोमवार को अपने 54वें जन्मदिन के मौके पर कंपनी में उनका उत्तराधिकार संभालने की रणनीति बताएंगे। हालांकि वह आगे भी कंपनी के कार्यकारी चेयरमैन बने रहेंगे।  न्यूयॉर्क टाइम्स ने शुक्रवार को कहा था कि जैक मा अपने जन्मदिन के दिन सेवानिवृत्ति की घोषणा करने वाले हैं और वे इसके बाद परमार्थ कार्यों पर ध्यान देंगे।

कंपनी के प्रवक्ता ने न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर को खारिज करते हुए कहा कि यह खबर तथ्यात्मक तौर पर गलत और संदर्भ से अलग है। वहीं, न्यूयॉर्क टाइम्स के एक प्रवक्ता इलीन मर्फी ने कहा कि अखबार अभी भी अपनी खबर पर कायम है। चीन के पूर्वी झेरजयांग प्रांत के हांगझोऊ नगर में एक गरीब परिवार में जन्मे जैक मा अंग्रेजी अध्यापक रहे। 1990 के दशक में इंटरनेट क्रांति से परिचय होने पर उन्होंने नौकरी छोड़ कर अपना कारोबार शुरू करने की ठानी।

जैक मा ने अपने दोस्तों को राजी कर उनसे 60,000 डॉलर की राशि जुटाई और ऑनलाइन क्रय-विक्रय की सुविधा देने वाला इंटरनेट बाजार मंच अलीबाबा शुरू किया। वह 2013 में कंपनी के सीईओ बनाए गए। शेयर बाजार के हिसाब से जैक मा की कंपनी की हैसियत करीब 421 अरब डालर (लगभग 30,312 अरब रुपए) की है। कंपनी की हैसियत के साथ उनकी भी हैसियत बढती गयी और वह दुनिया के सबसे अमीर लोगों में गिने जाते हैं।       

उन्होंने एक बार अमेरिकी टीवी समाचार चैनल सीएनएन से बातचीत में कहा था, "जब मैंने पहली बार इंटरनेट का इस्तेमाल किया और पहली बार कंप्यूटर का की-बोर्ड दबाया तो मुझे लगा, ‘हां यह कुछ ऐसी चीज है जो निश्चित रूप से दुनिया को बदलेगी, चीन को बदलेगी।" अलीबाबा आज डिजिटल मीडिया, मनोरंजन, क्लाउड कंप्यूटिंग और तमाम प्रकार के कारोबार में अपना जाल पसार चुकी है। इस साल जून में समाप्त तिमाही में उनका कारोबार 61 फीसदी की दर से बढ़ा। फोर्ब्स पत्रिका के अनुसार जैक मा चीन के सबसे धनी व्यक्ति है। उनकी संपत्ति 38.6 अरब डॉलर के बराबर है। 
 

Related Stories:

RELATED दुनिया की सबसे बड़ी सेलः अलीबाबा ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड, एक दिन में कमाए 22 खरब रुपए