18 नवंबर से शुरू होगा अंतर्राष्ट्रीय रेणुका जी मेला, सुरक्षा के होंगे पुख्ता इंतजाम

सिरमौर(सतीश): मां-पुत्र के पावन मिलन का प्रतीक अंतर्राष्ट्रीय रेणुका जी मेला हिमाचल प्रदेश के प्राचीन मेलों में से एक है। इस बार यह 18 नवंबर से 23 तक आयोजित किया जा रहा है। जिसका शुभारंभ जयराम ठाकुर द्वारा बल्कि मेले का समापन राज्यपाल आचार्य देवव्रत द्वारा किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक राज परिवार के सदस्य अजय बहादुर ने बताया कि रेणुका जी मेला माता रेणुका और उनके बेटे भगवान परशुराम के मिलन का प्रतीक है। दशमी के दिन भगवान परशुराम अपनी माता रेणुका से मिलने श्री रेणुका जी पहुंचते है। ढोल नगाड़े के साथ पारंपरिक तरीके से भगवान परशुराम की पालकी जामू कोटी से श्री रेणुका जी पहुंचती है। गिरी नदी के तट पर देव पालकी का स्वागत राज परिवार के सदस्यों द्वारा किया जाता है।

मेले को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। डीसी सिरमौर ललित जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि यहां पर पार्किग की भी व्यवस्था की गई है। यहां से गुजरने वाली बसें 24 घंटे चलेगी। ललित जैन ने बताया कि श्रद्घालुओं को किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जा रहा है। 

Related Stories:

RELATED 18 नवंबर से शुरू होगा अंतर्राष्ट्रीय रेणुका जी मेला (pics)