शिक्षार्थियों के बीच जिज्ञासा और विज्ञान के प्रति अभिरूचि के लिए कार्यशाला  का होगा आयोजन

नई दिल्ली:कॉलिन्स र्लिनंग ने आज खगोल विज्ञान के क्षेत्र में सार्थक अनुभवों को सामने लाने के लिए नेहरू तारामंडल के साथ सहयोग की घोषणा की है।  दोनों मिलकर शिक्षार्थियों के बीच जिज्ञासा और विज्ञान के प्रति अभिरूचि के लिए पूरे साल कार्यशाला, कार्यक्रम और गतिविधियों के अध्ययन का आयोजन करेंगे। एक बयान में बताया गया कि पारस्परिक हित की सहयोगी गतिविधियों की योजना बनाई गई है और कॉलिन्स का उद्देश्य इनके माध्यम से संसाधनों और गतिविधियों में ग्रहों से जुड़ी सामग्री और इस बारे में विशेषज्ञता को बढ़ावा देना है।      

कॉलिन्स र्लिनंग, भारत की प्रबंध निर्देशक चैताली मोइत्रा ने इस संयुक्त प्रयास के बारे में बताया कि हम चाहते हैं कि इससे जुड़ी शैक्षणिक सामग्री एवं तारामंडल द्वारा प्रदान किये जाने वाली विशेषज्ञता का फायदा इस संयोजन के जरिये नया सीखने को मिले।      
 

Related Stories:

RELATED सीबीएसई ने 10वीं विज्ञान के सैंपल पेपर को किया अपलोड