इनेलो का कल हरियाणा बंद, कांग्रेस का 10 को भारत बंद, भाजपा की बढ़ेगी परेशानी

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा राज्य से लेकर केन्द्र तक भाजपा सरकार की परेशानी बढ़ाने के लिए विपक्षी पार्टियां अपने तरफ से हर संभव प्रयास कर रही हैं। जहां एक ओर इनेलो ने कल यानि आठ सितंबर को हरियाणा बंद का ऐलान किया हुआ है, वहीं कांग्रेस ने हरियाणा राज्य के साथ केन्द्र सरकार के खिलाफ भारत बंद का ऐलान कर दिया है। इनेलो का मुद्दा एसवाईएल को लेकर है, वहीं कांग्रेस ने मंहगाई का मुद्दा उठाया है और देशव्यापी भारतबंद का ऐलान किया है।

अब ऐसे में आए पहले से ही स्वास्थ्य कर्मचारियों से रोडवेज कर्मचारियों का विरोध झेल रही हरियाणा सरकार को अब विपक्षियों का विरोध झेलना पड़ेगा। इनेलो के नेता राजपाल यादव ने बताया कि पिछले लंबे समय से इनेलो-बसपा द्वारा किया गया संघर्ष अब सिर चढ़कर बोलने लगा है। एसवाईएल, तेल की बढ़ती कीमतें, और जीएसटी को लेकर व्यापारियों की परेशानी आदि मुद्दों को लेकर इनेलो-बसपा द्वारा हरियाणा बंद रखने की अपील की गई है।

इस बंद में आज इनेलो बसपा के कार्यकर्ताओं ने शहर के प्रमुख बाजारों सहित कई स्थानों पर जाकर व्यापारियों से बंद की अपील की है। अब देखना यह होगा कि इनैलो-बसपा का बंद कितना सफल होता है और सरकार पर इसका क्या असर पड़ता है।

वहीं कांग्रेस कोर कमेटी के सदस्य और पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने महंगाई के मुद्दे पर भाजपा सरकार को घेरा। सुरजेवाला ने कहा कि महंगाई से त्रस्त देश की जनता की आवाज को बुलंद करने के लिए कांग्रेस 10 सितंबर को देशव्यापी भारत बंद करेगी। सुरजेवाला ने कहा कि इस सरकार ने पिछले 4 सालों में सिर्फ किसानों को छलने व धोखा देने का काम किया है, जिससे अन्नदाता परेशान हैं। उन्होंने कहा कि आय दोगुनी करने के वायदे पर वोट हासिल कर सरकार में आयी भाजपा के राज में आय दोगुनी होना तो दूर यह सरकार चौदह दिनों में गन्ना मूल्य भुगतान के वायदों पर सरकार खरा नहीं उतर रही।

Related Stories:

RELATED मोदी की रैली सफल नहीं हुई तो नहीं बनेगी हरियाणा में बीजेपी की सरकार