इंडसइंड बैंक का शुद्ध लाभ चौथी तिमाही में 62% घटा

नई दिल्लीः इंडसइंड बैंक का मुनाफा जनवरी-मार्च तिमाही में 62% घटकर 360.10 करोड़ रुपए रह गया है। पिछले साल मार्च तिमाही में 953.09 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था। हालांकि, आय बढ़कर 7,550.43 करोड़ रुपए हो गई है। 2018 की मार्च तिमाही में 5,858.62 करोड़ रुपए की आय हुई थी। बैंक ने बुधवार को नतीजों का ऐलान किया।

पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में बैंक का मुनाफा 8% घटकर 3,301 करोड़ रुपए रह गया। 2017-18 में 3,606 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था। पूरे साल में बैंक को 27,907.87 करोड़ रुपए का आय हुई। 2017-18 में 22,030.85 करोड़ रुपए थी।

31 मार्च को खत्म वित्त वर्ष में ग्रॉस एनपीए बढ़कर 2.10% पहुंच गया। 2017-18 में 1.17% था। नेट एनपीए बढ़कर 1.21% हो गया। 2017-18 में 0.51% था। रुपए में बात करें तो ग्रॉस एनपीए 3,947.41 करोड़ रुपए पहुंच गया है। 2017-18 में यह 1,704.91 करोड़ रुपए था। नेट एनपीए बढ़कर 2,248.28 करोड़ रुपए हो गया है। एक साल पहले 745.67 करोड़ रुपए था।

इंडसइंड बैंक के बोर्ड ने 2018-19 के लिए 7.50 रुपए प्रति शेयर के डिविडेंड की सिफारिश की है। बैंक के शेयर में बुधवार को बीएसई और एनएसई पर 4-4 फीसदी बढ़त दर्ज की गई।
 

Related Stories:

RELATED इफ्को को 2018-19 में 841 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ