भारत-अमरीका की पहली 2+2 वार्ता कल, बड़े और रणनीतिक’ मुद्दों पर होगी चर्चा

इंटरनैशनल डैस्कः भारत-अमरीका के बीच गुरुवार 6 सितम्बर को होने वाली पहली 2+2 वार्ता  को लेकर अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहाकि वार्ता में बड़े और रणनीतिक’ मुद्दों के अलावा भारत और रूस मिसाइल सौदे और ईरान से तेल आयात करने पर बातचीत हो सकती है ।  कहा जा रहा है कि इस बातचीत में भारत इन दोनों मुद्दों पर अपना पक्ष मजबूती से रखने की तैयारी कर चुका है। भारत अमरीका को सुरक्षा और अपने ईंधन संकट के बारे में समझाने की कोशिश कर सकता है।

PunjabKesariइस वार्ता में दोनों देशों के रक्षा और विदेश मंत्रियों के बीच आतंकवाद, रक्षा सहयोग और व्यापार पर बातचीत होना तय है। इसके अलावा, दोनों देश पाकिस्तान की नई सरकार पर राय, एच-1बी वीजा की प्रक्रिया में बदलाव जैसे मुद्दे पर भी बात कर सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, दोनों देश काफी समय से लंबित मामलों और संचार-सुरक्षा समझौते (सीओएमसीएएसए) पर एकमत हो सकते हैं। सीओएमसीएएसए से भारतीय सेना को अहम अमरीकी सैन्य तकनीक हासिल करने में आसानी होगी।
PunjabKesari
सूत्रों का कहना है कि अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो भारत आने से पहले इस्लामाबाद जाएंगे। वहां से बुधवार को नई दिल्ली पहुंचेंगे। उनके साथ रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस मौजूद रहेंगे। वहीं, 12 सदस्यीय अमरीकी प्रतिनिधिमंडल में ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के प्रमुख जनरल जोसेफ डनफोर्ड भी शामिल हैं।  गुरुवार सुबह सुषमा स्वराज की पोम्पियो के साथ और सीतारमण की मैटिस के साथ अलग-अलग बातचीत होगी। इसके बाद दोनों देशों के मंत्री 2+2 बैठक करेंगे। लंच के बाद सुषमा स्वराज, सीतारमण, पोम्पियो और मैटिस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। पोम्पियो गुरुवार शाम ही अमेरिका चले जाएंगे, जबकि मैटिस शुक्रवार सुबह रवाना होंगे। PunjabKesari

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!