देश का विदेशी मुद्रा भंडार फिर 400 अरब डॉलर के पार

मुम्बई : देश का विदेशी मुद्रा भंडार एक बार फिर बढ़कर 400 अरब डॉलर के पार पहुंच गया। गत 1 मार्च को समाप्त सप्ताह में यह 25.99 अरब डॉलर बढ़कर 400 अरब डॉलर के स्तर को लांघकर 401.77 अरब डॉलर पर पहुंच गया। रिजर्व बैंक के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। इससे पिछले सप्ताह विदेशी मुद्रा भंडार 94.47 करोड़ डॉलर बढ़कर 399.21 अरब डॉलर था। केन्द्रीय रिजर्व बैंक ने कहा कि समीक्षाधीन सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार का अहम हिस्सा यानी विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां 2.06 अरब डॉलर बढ़कर 374.060 अरब डॉलर पर पहुंच गईं। विदेशी मुद्रा भंडार को डॉलर बताया जाता है लेकिन इसमें यूरो, पौंड और येन जैसी गैर-अमरीकी मुद्राओं में आए उतार-चढ़ाव को भी शामिल किया गया है।

देश का विदेशी मुद्रा भंडार इससे पहले 13 अप्रैल 2018 को समाप्त सप्ताह में 426.028 अरब डॉलर के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था लेकिन इसके बाद से इसमें काफी गिरावट आई है। केन्द्रीय बैंक ने कहा कि पिछले कुछ सप्ताह अपरिवर्तित रहने के बाद समीक्षाधीन सप्ताह में देश का आरक्षित स्वर्ण भंडार 48.87 करोड़ डॉलर बढ़कर 23.25 अरब डॉलर हो गया। सप्ताह के दौरान अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आई.एम.एफ.) के पास सुरक्षित विशेष निकासी अधिकार भी 30 लाख डॉलर बढ़कर 1.463 अरब डॉलर हो गया। केन्द्रीय बैंक ने कहा कि आई.एम.एफ. में देश का आरक्षित भंडार भी 62 लाख डॉलर बढ़कर 2.999 अरब डॉलर हो गया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!