साबित कर दूंगा कि मेरे विरुद्ध दर्ज रिश्वतखोरी का मामला झूठा है : दिनाकरण

चेन्नई: अन्नाद्रमुक के पूर्व नेता टी टी वी दिनाकरण ने शनिवार को कहा कि वह साबित कर देंगे कि दो पत्तियों के चुनाव निशान के लिए चुनाव आयोग को कथित रिश्वत देने के संबंध में दिल्ली की अदालत में उनके विरुद्ध दर्ज मामला झूठ है। दिनाकरण ने अदालत द्वारा उनके विरुद्ध आरोप तय करने का आदेश दिए जाने पर ​ट्वीट किया, ‘मैं अदालत के जरिए साबित कर दूंगा कि यह बस झूठा मामला है।’

विशेष न्यायाधीश अजय भारद्वाज ने आदेश दिया कि भारत की धाराओं 120 बी (आपराधिक साजिश), 201 (सबूत नष्ट करने) और भ्रष्टाचार रोकथाम के तहत दिनाकरण पर मुकदमा चलाने आदेश दिया। कथित बिचौलिए सुकेश चंद्रशेखर पर भी भादंसं की धाराएं 120 बी और 201 तथा अन्य कानूनों के तहत मुकदमा चलाने का आदेश दिया गया। अदालत ने दिनाकरण को चार दिसंबर को पेश होने का निर्देश दिया है जब वह औपचारिक रूप से आरोप तय करेगी।

वर्ष 2017 में दिल्ली पुलिस ने आरोपपत्र दायर किया था कि चंद्रशेखर ने दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता की सहयोगी वी के शशिकला के गुट को दो पत्तियों वाला चुनाव निशान दिलाने के लिए चुनाव आयोग के अधिकारियों को रिश्वत देने के वास्ते दिनाकरण एवं अन्य के साथ साजिश रची थी। 

Related Stories:

RELATED रिश्वतखोरी में गिरफ्तार SHO नौकरी से डिसमिस