मेरे पास जनता का प्यार और विश्वास बचा है पद तो आते जाते रहते हैं- शिवराज सिंह

भोपाल: पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज और सीएम कमलनाथ के बीच चिट्ठी और ट्विटर वार चल रहा है। कमलनाथ ने एक दिन पहले शिवराज सिंह को कहा था कि विपक्ष में रहकर अब आरोप लगाने के अलावा बचा क्या है। इस पर शिवराज सिंह ने शुक्रवार को ट्वीट कर जवाब दिया है। शिवराज ने ट्वीट किया है कि  'उनके पास सब कुछ बचा है। आज भी उनके पास जनता का प्यार, विश्वास और अन्याय के खिलाफ संघर्ष का जज्बा है। पद तो आते जाते रहते है लेकिन जनता के लिए अंतिम सांस तक जीने का संकल्प बचा है।'
 


इतना ही नहीं शिवराज सिंह ने कमलनाथ सरकार को घेरते हुए एक और ट्वीट कर पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश देने के फैसले पर भी सवाल उठाए हैं। शिवराज ने ट्वीट किया है कि 'थोथा चना, बाजे घना...कांग्रेस की कथनी और करनी में फर्क फिर उजागर...पुलिसकर्मियों को एक दिन साप्ताहिक अवकाश देकर ढोल पीटा और अब फिर वही ढपली, वही राग!'




पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को किसान कर्जमाफी को लेकर दिए बयान पर भी आड़े हाथों लेते हुए ट्वीट किया कि 'सीएम और कांग्रेस के नेता कह रहे हैं कि किसानों की कर्ज़माफी का हमारा वादा पूरा हुआ। अभी पूरा कहाँ हुआ है, घोषणा का अर्थ पूरा होना नहीं है। खरगोन में किसानों के 100-100, 50-50 रुपये ही माफ हो रहे हैं, क्या ये मज़ाक नहीं है?'

Related Stories:

RELATED सूर्या एंक्लेव के लोगों ने इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ऑफिस के बाहर दिया धरना, जानें वजह